नई दिल्ली. बारिश के चलते क्रिकेट मुकाबले में देरी, उसे रोके जाने या फिर रद्द कर दिए जाने के बारे में आपने कई बार सुना होगा. लेकिन, कभी ऐसा नहीं सुना होगा कि सूरज की रौशनी ने मैच में खलल डाला है. और, सुनें भी कैसे. आखिर जिस रौशनी में ये खेल खेला जाता है भला वो ही कैसे इसमें बाधा बन सकता है. लेकिन आपको बता दें कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे नेपियर वनडे में ऐसा ही देखने को मिला, जहां सूरज की तेज रौशनी की वजह से मैच को करीब आधे घंटे के लिए रोका गया. ये अपने तरह की घटी क्रिकेट इतिहास में पहली घटना है.

VIDEO: धोनी बिजली से भी हैं तेज, नेपियर में फर्गुसन को दिखाया नमूना

सूरज की रौशनी ने डाला खलल

दरअसल, डिनर के बाद भारतीय टीम जब बल्लेबाजी के लिए उतरी तो भारत को रोहित शर्मा के तौर पर पहला झटका लगा. इस बड़े झटके के बाद विराट कोहली बल्लेबाजी के लिए उतरे. भारतीय पारी का 11वां ओवर चल रहा था और स्ट्राइक पर थे शिखर धवन. ल्यूक फर्ग्यूसन के इस ओवर की पहली ही गेंद खेलने के बाद धवन ने सूरज की रौशनी से हो रही परेशानी की शिकायत की, जिसके बाद अंपायर ने मैच को रोक दिया और दोनों टीमों के खिलाड़ी मैदान से बाहर आ गए. सूरज की रौशनी वजह से जिस वक्त खेल रुका उस वक्त भारत का स्कोर 1 विकेट पर 44 रन था.

1 ओवर की कटौती

सूरज की रौशनी की वजह से खेल को रोके जाने की जो घटना क्रिकेट इतिहास में पहली बार हुई उसका मुकाबले के ओवर पर भी असर पड़ा. मतलब ये कि मैच में 1 ओवर की कटौती की गई और भारत के जीत के टारगेट को 158 रन से घटाकर 156 रन कर दिया गया.