भारतीय क्रिकेट टीम ने मोहम्मद शमी(Mohammed Shami) और जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की शानदार साझेदारी और फिर मोहम्मद सिराज-इशांत शर्मा की गेंदबाजी की मदद से लॉर्ड्स टेस्ट में इंग्लैंड को 151 रनों के हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। हालांकि पूर्व इंग्लिश कप्तान माइकल एथरटन का मानना है कि टीम इंडिया को 2-0 से आगे होना चाहिए।Also Read - Highlights Updates MI vs PBKS, IPL 2021: हार्दिक पांड्या ने छक्‍का लगाकर खत्‍म किया मैच, 5वें स्‍थान पर आई मुंबई

दरअसल भारत और इंग्लैंड के बीच ट्रेंट ब्रिज खेला गया पहला टेस्ट मैच बारिश की वजह से ड्रॉ हो गया था। लेकिन खेल के आखिरी दिन टीम इंडिया 157 रनों का पीछा करते हुए मात्र एक विकेट खोकर खेल रही थी, ऐसे में अगर बारिश नहीं होती तो जीत भारत के पक्ष में जाती। Also Read - RR vs RCB, Dream11 Team Prediction, IPL 2021: ड्रीम11 के लिए ये हैं कप्‍तान-उपकप्‍तान के सही विकल्‍प, होगा फायदा

एथर्टन ने टेलीग्राफ के लिए अपने कॉलम में लिखा, “हालांकि सोमवार को मैच के आखिरी दिन इंग्लैंड ने मूर्खतापूर्ण और फिर कमजोर प्रदर्शन किया। लेकिन वो भारतीय टीम थी जिसने छाप छोड़ा।” Also Read - RR vs RCB, Predicted-XI, IPL 2021: राजस्‍थान को करनी है वापसी तो ये बदलाव हैं जरूरी, ऐसा होगा दोनों टीमों का प्‍लेइंग-11

उन्होंने कहा, “उनके खेल की गंभीरता, जीतने की उनकी इच्छा, और कठिन समय से गुजरने के उनके कौशल से इस बात में कोई संदेह नहीं है कि अगर बारिश ना होती को नॉटिंघम टेस्ट उनके पक्ष में खत्म होता। भारत को 2-0 से आगे होना चाहिए।”

पूर्व कप्तान ने कहा, “दो मैचों में, इंग्लैंड ने लंबी अवधि के लिए प्रतिस्पर्धा की वो भी कुछ गंभीर क्रिकेटरों – बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर, और क्रिस वोक्स जो दो टेस्ट के लिए अनुपस्थित हैं और स्टुअर्ट ब्रॉड जो एक मैच में गैरमौजूद थे, उनके बिना। उन्हें अपने दो महान क्रिकेटरों जेम्स एंडरसन और जो रूट के होने का फायदा मेरा। टेस्ट क्रिकेट में, महान खिलाड़ी कई कमियों को पूरा कर सकते हैं, अभी तक सबकुछ खोया नहीं है।”