नई दिल्ली. भारतीय पुरुष हॉकी टीम आज चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में स्थान पक्का करने के लक्ष्य से मेजबान नीदरलैंड्स के खिलाफ मैदान पर उतरेगी. भारतीय टीम के कप्तान पी.आर. श्रीजेश ने कहा कि उनकी टीम इस आखिरी राउंड-रोबिन मैच को सेमीफाइनल की तरह खेलेगी. अपने पहले मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 4-0 और दूसरे मैच में अर्जेटीना को 2-1 से हराने के बाद भारतीय टीम ने सूची में पहला स्थान हासिल कर लिया था लेकिन इसके बाद उसे मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया से 2-3 से हार का सामना करना पड़ा और बेल्जियम के खिलाफ खेला गया मैच 1-1 से ड्रॉ रहा. ऐसे में भारत के लिए मेजबान नीदरलैंड्स के खिलाफ आखिरी पूल मैच जीतना करो या मरो की स्थिति हो गई है. Also Read - चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत और बेल्जियम का मुकाबला ड्रॉ

Also Read - ऑस्ट्रेलिया को हराओ, फाइनल में जाओ... नीदरलैंड में 'चक दे इंडिया'!

केएल राहुल के ‘सबूत’ से विराट कोहली की सबसे बड़ी टेंशन हुई दूर! Also Read - India wins silvsr medal in champions trophy hockey | चैम्पियंस ट्रॉफीः भारत को सिल्वर मेडल से ही करना पड़ा संतोष, ऑस्ट्रेलिया ने 3-1 से हराया

यह चैम्पियंस ट्रॉफी का आखिरी चरण है और इस कारण से भारत हर हाल में पोडियम तक पहुंचना चाहता है. भारतीय टीम के कप्तान श्रीजेश ने कहा, “कल का दिन भाग्यशाली था, क्योंकि 12 पेनाल्टी कॉर्नर का सामना करना मुश्किल होता है. मैच का परिणाम उनके पक्ष में कभी भी जा सकता था. हम इस तरह से पेनाल्टी कॉर्नर नहीं दे सकते.”

‘101’ के शगुन से मिली सबसे बड़ी जीत, आयरलैंड के बाद अब इंग्लैंड भी होगा चित्त!

श्रीजेश ने इस बात को स्वीकार किया है कि नीदरलैंड्स के पास घर में आयोजित हो रहे टूर्नामेंट का फायदा है. उन्होंने कहा, “हम इस मैच की चुनौती के लिए तैयार हैं। हम फाइनल से केवल एक कदम दूर हैं. ट्रॉफी को जीतना हमारी ख्वाहिश है.”