नई दिल्ली : कप्तान विराट कोहली (नाबाद 82) और उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे (नाबाद 51) की अर्धशतकीय पारियों ने भारत को पर्थ स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अच्छी स्थिति में पहुंचा दिया. इन दोनों की जुझारू पारियों के दम पर भारत ने दूसरे दिन का अंत होने तक अपनी पहली पारी में तीन विकेट के नुकसान पर 172 रन बना लिए हैं. ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 326 रन बनाए. इस लिहाज से भारत अभी भी मेजबान टीम से 154 रन पीछे है. उसके पास अभी भी सात विकेट बाकी हैं. ऐसे में उम्मीद है कि भारत अच्छी बढ़त ले पाने में सफल रहेगा. Also Read - Hathras Gang Rape: हाथरस गैंग रेप पर विराट कोहली ने भी दी प्रतिक्रिया, बोले- ये तो...

Also Read - मुंबई के खिलाफ Super Over में मिली जीत के बाद कप्तान विराट कोहली ने RCB की फील्डिंग को लेकर दिया बड़ा बयान

कोहली और रहाणे के बीच चौथे विकेट के लिए 90 रनों की साझेदारी हो चुकी है. कप्तान ने अभी तक 181 गेंदों का सामना किया है और नौ चौके लगाए हैं जबकि रहाणे ने 103 गेंदें खेली हैं और छह चौकों के अलावा एक छक्का लगाया है. ऑस्ट्रेलिया ने दिन की शुरुआत छह विकेट के नुकसान पर 277 रनों के साथ की थी. मेजबान टीम खाते में 49 रन और जोड़ कर पवेलियन लौट ली. Also Read - IPL के इतिहास में विराट का सबसे खराब प्रदर्शन, पहले तीन मैचों के बाद बनाए महज इतने रन

AUSvsIND: खराब फॉर्म में चल रहे राहुल से रूठी किस्मत, पर्थ में बने हेजलवुड के शिकार

पहले सत्र में भारत बल्लेबाजी करने उतरी, लेकिन मिशेल स्टार्क ने मुरली विजय को बोल्ड कर उसे अच्छी शुरुआत नहीं करने दी. भारत ने पहले सत्र का अंत एक विकेट के नुकसान पर छह रनों के साथ किया. भारत को दूसरे सत्र की शुरुआत में ही झटका लग गया. जोश हेजलवुड ने लोकेश राहुल (2) को पवेलियन की राह दिखा भारत को परेशानी में डाल दिया. कप्तान कोहली और भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने हालांकि दूसरे सत्र का खेल खत्म होने तक भारत को तीसरा झटका नहीं लगने दिया. भारत ने चायकाल की घोषणा तक दो विकेट के नुकसान पर 70 रन बनाए.

तीसरे सत्र में स्टार्क ने पुजारा की पारी का अंत कर भारत को एक बार फिर संकट में डाला लेकिन यहां से कोहली और रहाणे ने विकेट पर पैर जमा लिए और आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को चौथी सफलता हासिल नहीं करने दी. इस बीच हालांकि मेजबान टीम के गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया और दोनों बल्लेबाजों को परेशानी में डाले रखा. कप्तान और उप-कप्तान विचलित नहीं हुए और दिन का खेल खत्म होने तक नाबाद लौटे.

VIDEO: हेजलवुड ने लोकेश राहुल को दिया चकमा, पहली ही गेंद पर किया OUT

इससे पहले, दिन की शुरुआत करने उतरी ऑस्ट्रेलिया को आगे ले जाने की जिम्मेदारी कप्तान टिम पेन और पैट कमिंस के ऊपर थी. इन दोनों ने अपनी जिम्मेदारी को अच्छे से निभाया और दूसरे दिन के तकरीबन शुरुआती एक घंटे तक भारतीय गेंदबाजों को विकेट नहीं लेने दिया.

दोनों ने संयम से बल्लेबाजी की. दोनों ने टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचा दिया. इस साझेदारी को आखिरकार उमेश यादव ने तोड़ा. उमेश ने कमिंस को 310 रनों के कुल स्कोर पर पगबाधा आउट किया. कमिंस ने 19 रन बनाए.

कमिंस के जाने के बाद पेन भी ज्यादा देर टिक नहीं सके. खाते में एक भी रन नहीं जुड़ा था कि जसप्रीत बुमराह ने पेन को पवेलियन भेज ऑस्ट्रेलिया को आठवां झटका दिया. पेन ने 89 गेंदों का सामना कर पांच चौकों की मदद से 38 रनों की पारी खेली. पेन और कमिंस ने सातवें विकेट के लिए 59 रनों की साझेदारी की. इसके बाद ईशांत शर्मा ने लगातार दो विकेट लेकर आस्ट्रेलियाई पारी का अंत किया. उन्होंने पहले स्टार्क (6) और फिर जोश हेजलवुड (0) को आउट कर ऑस्ट्रेलिया को पवेलियन में बैठा दिया.

ऑस्ट्रेलिया के लिए मार्कस हैरिस ने सबसे ज्यादा 70 रन बनाए जिसके लिए उन्होंने 141 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौके लगाए. एरॉन फिंच ने 105 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 50 रनों की पारी खेली. ट्रेविस हेड ने 58 रनों का पारी खेली. हेड ने अपनी पारी में 80 गेंदों का सामना किया और छह चौके जड़े. भारत के लिए ईशांत शर्मा ने चार विकेट लिए. जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव और हनुमा विहारी को दो-दो सफलताएं मिलीं.