सिडनी में खेले जा रहे दूसरे वनडे में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने एक बार फिर भारत के सामने 390 रनों का विशाल लक्ष्य रखा है. कंगारू टीम के लिए एक बार फिर पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने शानदार शतक जमाते हुए ऑस्ट्रेलिया को इस विशाल स्कोर तक पहुंचने में उपयोगी योगदान दिया. स्मिथ के अलावा कप्तान (Aaron Finch) एरोन फिंच (60) और (David Warner) डेविड वॉर्नर (83), मार्नस लाबुशेन (70) और ग्लेन मैक्सवेल (63*) ने भी अपनी-अपनी हाफ सेंचुरी जमाई. कंगारू टीम के लिए उसके टॉप 5 बल्लेबाजों ने 50 या इससे ज्यादा रन बनाए. Also Read - India vs Australia 4th Test: रोहित शर्मा को अपने शॉट पर आउट होने का नहीं कोई पछतावा, बोले- ऐसे ही खेलूंगा

एक बार फिर कप्तान एरोन फिंच ने यहां टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. फिंच और स्मिथ के रूप दोनों ओपनिंग बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 142 रन जोड़कर मजबूत स्कोर का आधार रखा. इसके बाद कंगारू टीम ने इस लय को खोया नहीं और मैच के अंत कत रनगति को वह बढ़ाते ही नजर आए. Also Read - ब्रिसबेन टेस्‍ट में रोहित शर्मा लंगड़ाकर चलते हुए आए नजर, भारत के लिए बजी खतरे की घंटी

फिंच के आउट होने के बाद मैदान पर (Steve Smith) स्टीव स्मिथ आ गए. स्मिथ ने अपने पिछले ही मैच वाले अंदाज में अपनी बैटिंग को आगे बढ़ाया और उन्होंने एक बार फिर तेज-तर्रार शतक अपने नाम किया. 64 बॉल की अपनी इस शतकीय पारी में स्मिथ ने 14 चौके और 2 छक्के जमाए. वह हार्दिक पांड्या की गेंद पर शमी के हाथों कैच आउट हुए. उन्होंने तीसरे विकेट के लिए मार्नस लाबुशेन के साथ मिलकर 156 रन जोड़े. Also Read - बारिश से प्रभावित मुकाबले में भारत ने बनाए 62/2, ऑस्‍ट्रेलिया के पास 307 रन की बढ़त

मार्नस लाबुशेन ने भी इस मैच में 70 (61 बॉल, 5 चौके) रनों की शानदार अर्धशतकीय पारी खेली. वहीं दूसरी ओर एक बार फिर (Glenn Maxwell) ग्लेन मैक्सवेल ने अपनी तेज तर्रार पारी का अंदाज जारी रखा और अपनी इस पारी में उन्होंने सिर्फ 19 गेंदों का ही सामना किया और 4 चौके और 4 छक्कों की मदद से नाबाद 63 रन बनाए. भारत की ओर से मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या ने 1-1 विकेट जरूर लिया लेकिन वह सभी महंगे साबित भी हुए.

इस मैच में रवींद्र जडेजा को छोड़कर बाकी सभी प्रमुख गेंदबाजों ने 60 से ज्यादा रन लुटाए. शमी ने 9 ओवर में 73 रन, बुमराह ने 10 ओवर में 79 रन, नवदीप सैनी ने 7 ओवर में 70, जबकि युजवेंद्र चहल ने 9 ओवर फेंककर 71 रन लुटाए. इस मैच में भारतीय टीम ने अपने 5 ओवर हार्दिक पांड्या और मयंक अग्रवाल के जरिए पूरा किया. हार्दिक ने 4 ओवर में 24 रन खर्च कर 1 विकेट भी अपने नाम किया.