भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने रविवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे 3 मैचों की सीरीज के तीसरे और निर्णायक वनडे में अपने नाम एक खास उपलब्धि दर्ज कर ली.

बेंगलुरू वनडे के दौरान टीम इंडिया को लगा तगड़ा झटका, चोटिल हुआ ये ओपनर

सौरव गांगुली को पीछे छोड़ा 

रोहित वनडे में सबसे तेज 9000 रन बनाने वाले वर्ल्ड के तीसरे बल्लेबाज बन गए. मुंबई वनडे में सस्ते में और राजकोट वनडे में 42 रन बनाने वाले 32 वर्षीय रोहित को पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली को पीछे छोड़ने के लिए बेंगलुरू वनडे में सिर्फ 4 रन की जरूरत थी. रोहित सबसे तेज इस उपलब्धि को हासिल करने वाले दूसरे भारतीय बने.

स्टीव स्मिथ का शतकीय प्रहार, भारत के सामने 287 रन का लक्ष्य

हाल में आईसीसी वनडे क्रिकेटर ऑफ द ईयर (2019) चुने गए रोहित ने इस मुकाम को भारतीय पारी के पहले ओवर में ही हासिल कर लिया. उन्होंने अपने नौ हजार वनडे रन 217 पारियों में पूरी की जबकि गांगुली को इस आंकड़े तक पहुंचने के लिए 228 पारियों की मदद लेनी पड़ी.

9 हजारी क्लब में शामिल होने वाले 7वें भारतीय बने रोहित 

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने 235 जबकि वेस्टइंडीज के दिग्गज ब्रायन लारा ने 239 वनडे पारियों में इस उपलब्धि को हासिल की थी. रोहित 9 हजार के क्लब में पहुंचने वाले 7वें भारती हैं. इससे पहले पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन, तेंदुलकर, गांगुली, राहुल द्रविड़, एमएस धोनी और विराट कोहली इस मुकाम तक पहुंच चुके हैं.

शुरुआती 2000 वनडे रन 82 पारियों में बनाए थे 

रोहित ने वनडे में 82 पारियों में शुरुआती 2000 रन बनाए थे जो किसी बल्लेबाज का तीसरी सबसे धीमी पारी थी. इसके बाद मुंबई के इस बल्लेबाज ने 2013 के बाद ओपनिंग करनी शुरू की और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा.

सबसे तेज 9000 वनडे रन बनाने का रिकॉर्ड विराट कोहली के नाम है

वनडे क्रिकेट में सबसे कम पारियों में 9000 रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड टीम इंडिया के वर्तमान कप्तान विराट कोहली के नाम है. कोहली ने सिर्फ 194 पारियों में ये उपलब्धि हासिल की है. इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज एबी डीविलियर्स हैं जिन्होंने 205 पारियों में नौ हजार के आंकड़े को छुआ था.