Trending Cricket News: भारतीय टीम ने सात मैचों के लंबे अंतराल के बाद बुधवार को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ (India vs Australia, 3rd ODI) तीसरे वनडे मुकाबले में 13 रन से जीत दर्ज की. वनडे सीरीज गंवाने के बाद भारतीय टीम (Team India) ने अंतिम मैच जीतकर सीरीज को 1-2 पर खत्‍म किया. विराट कोहली (Virat Kohli) ने इस जीत के बाद राहत की सांस ली. Also Read - IND vs AUS: आईसीसी ने बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी की चारों पिचों को दी 'हाई रेटिंग'; एडिलेड को सबसे बेहतर बताया

मैच के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि ये जीत सही समय पर आयी जो बचे हुए दौरे के लिये मनोबल बढ़ायेगी और ऐसा टीम में बदलाव से आई ताजगी के कारण ही हो सका. Also Read - घर लौटकर T Natarajan ने बताया वो कब हो गए थे नर्वस, टेस्‍ट सीरीज जीत में निभाई अहम भूमिका

भारतीय टीम ने सभी तीन मैचों में 300 से अधिक रन बनाए. आज के मुकाबले में भारत ने मैच के लिये अंतिम एकादश में चार बदलाव किये थे.  कोहली ने कहा, ‘‘हम ऑस्ट्रेलियाई पारी के पहले और दूसरे हाफ में दबाव में थे. शुभमन (गिल) और अन्य के आने से थोड़ी ताजगी आयी. टीम को इस तरह के मनोबल की जरूरत थी.’’ Also Read - Virat Kohli को छोड़ देनी चाहिए टेस्ट टीम की कमान, Ajinkya Rahane हैं तैयार: बिशन सिंह बेदी

पहले दो मैचों में साधारण दिखने वाले भारतीय गेंदबाजों ने मनुका ओवल की पिच से काफी मदद हासिल की. कोहली ने कहा कि यह सिडनी की पिच से काफी बेहतर थी, जहां पहले दो मैच खेले गये थे.

विराट कोहली ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि गेंदबाजों के लिये पिच काफी बेहतर थी. इसलिये आत्मविश्वास का स्तर भी ऊपर हुआ. लंबे समय तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के दौरान आप इस तरह की चुनौती का सामना करते हो. हम गेंद से और मैदान में बेहतर थे. ’’

कोहली ने 63 रन की पारी खेली लेकिन रविंद्र जडेजा (66) और हार्दिक पंड्या (92) के बीच 150 रन की नाबाद साझेदारी ने भारत को चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाने में मदद की.

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘टीम के प्रदर्शन से खुश हूं और उम्मीद करते हैं कि हम यह लय आगे भी जारी रखेंगे. मैं थोड़ी और देर तक बल्लेबाजी करना पसंद करता लेकिन पंड्या और जडेजा ने अच्छी साझेदारी निभायी. ’’

पंड्या को ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया, उन्होंने कहा कि आस्ट्रेलिया जैसी टीम के खिलाफ खेलना ही आपको प्रेरित कर सकता है. उन्होंने कहा, ‘‘यह शानदार है. आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते समय आपको सतर्क रहना होता है. मुझे लगता है कि जब आप आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हो तो आपको अतिरिक्त बेहतर करना होता है और आप इस तरह की चुनौती का सामना करना चाहते हो.’’