India vs Australia, 3rd Test: सिडनी टेस्‍ट में भारतीय टीम के साथ 12 साल बाद कुछ ऐसा हुआ जो खेल के सबसे लंबे प्रारूप में फैन्‍स बिल्‍कुल भी नहीं देखना पसंद करते. आज भारत के तीन बल्‍लेबाज रनआरट हुए. भारतीय क्रिकेट के इतिहास पर नजर डालें तो ऐसा केवल सात बार ही हुआ है. Also Read - क्रिकेटर मोहम्मद सिराज का बड़ा खुलासा, बोले- सिडनी टेस्ट में नस्लीय टिप्पणी के बाद अंपायरों ने हमें...

ऑस्ट्रेलियाई फील्डरों ने तीसरे दिन पहले पहले हनुमा विहारी (4) को रन आउट किया. सिंगल चुराने के प्रयास में विहारी जोस हेजलवुड द्वारा डाइरेक्ट थ्रो पर रन आउट किए गए. विहारी के रूप में भारत का चौथा विकेट गिरा था.
इसके बाद पैट कमिंस और मार्नस लाबुशैन ने आपसी सूझबूझ की बदौलत रविचंद्रन अश्विन (10) को आउट कर भारत को सातवां झटका दिया. Also Read - भारत लौटकर Mohammed Siraj ने किया पिता को याद- बोले- मेरे सभी विकेट्स उन्हें समर्पित

ऑस्ट्रेलियाई फील्डर नहीं रुके और रन चुराने का प्रयास कर रहे जसप्रीत बुमराह (0) को रन आउट कर भारत को नौवां झटका दिया. बुमराह को लाबुशैन ने डाइरेक्ट थ्रो पर आउट किया. Also Read - मैं नहीं चाहता कि MS Dhoni से हो मेरी तुलना, मैं खुद की पहचान बनाना चाहता हूं: Rishabh Pant

भारत के लिए पिछली बार इस तरह का वाक्या 2008-09 सीजन मे हुआ था जब मोहाली में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरी पारी में वीरेंद्र सहवाग, वीवीएस लक्ष्मण और युवराज सिंह रन आउट हुए थे.

 

 

भारतीय टीम आज पैट कमिंस के चार विकेट हॉल के चलते 244 रन पर ऑलआउट हो गई. मेजबानों को पहली पारी के आधार 94वें रनों की बढ़त मिली. भारत की तरफ से चेतेश्‍वर पुजारा और शुबमन गिल ने अर्धशतक जड़ा.