India vs Australia Boxing Day Test : भारतीय क्रिकेट टीम के युवा ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) मौजूदा ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पहले टेस्ट मैच में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे. शॉ एडिलेड में खेले गए डे नाइट टेस्ट (India vs Australia) की पहली पारी में खाता भी नहीं खोल सके जबकि दूसरी पारी में उनके बल्ले से सिर्फ 4 रन निकले. अब उनके सीरीज के अगले तीन टेस्ट में प्लेइंग इलेवन में शामिल करने को लेकर चर्चा जोरों पर है. Also Read - ऑस्ट्रेलिया पर जीत के बाद कप्तान रहाणे ने कुलदीप यादव की तारीफ की; कहा- आपका टाइम आएगा

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी (Michael Hussey) का मानना है कि भारतीय टीम मैनेजमेंट को पृथ्वी शॉ का समर्थन करना चाहिए और 26 दिसंबर से मेलबर्न में शुरू होने जा रहे दूसरे टेस्ट के लिए उन्हें अंतिम एकादश में शामिल करना चाहिए. हसी ने क्रिकइंफो से कहा, ‘मुझे लगता है कि चयनकर्ताओं को अभी पृथ्वी शॉ पर भरोसा रखना चाहिए. हां, उन्होंने रन नहीं बनाया है इस टेस्ट मैच में लेकिन यह बेहतरीन गेंदबाजी और मुश्किल पिच बल्लेबाजी करने वाला टेस्ट मैच था.’ Also Read - भारतीय क्रिकेटरों के मुकाबले में अभी 'प्राइमरी क्लास' में हैं युवा ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी: ग्रेग चैपल

हसी ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज जो बर्न्‍स का उदाहरण देते हुए कहा, ‘जो बर्न्‍स का औसत फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सात से भी कम रहा. चयनकतार्ओं ने उन पर भरोसा जताया. वह पहली पारी में सस्ते में आउट हो गए लेकिन धीरे-धीरे उन्होंने अपना आत्मविश्वास हासिल किया, अपने ऊपर काम किया. आप इस खिलाड़ी का चरित्र देखिए कि उन्होंने अर्धशतकीय पारी खेलकर मैच खत्म किया.” Also Read - ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले युवराज सिंह के साथ किए अभ्यास ने शॉर्ट गेंदो का सामना करने में मदद की: शुबमन गिल

उन्होंने कहा, ‘पृथ्वी शॉ के लिए, उनके  कैरेक्टर के बारे में पता करें. उन पर विश्वास दिखाएं और उनसे कहें कि ‘देखो, हम आपका समर्थन कर रहे हैं’. मेलबर्न की पिच उन्हें काफी रास आएगी. यह निश्चित रूप से वहां गति और उछाल नहीं होगी. स्पष्ट रूप से उनके पास बहुत बड़ी प्रतिभा है.’

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी चार मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला मेलबर्न में 26 दिसम्बर से खेला जाएगा.