भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) की टीमें इन दिनों सिडनी में बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी (Border Gavaskar Trophy) का तीसरा टेस्ट मैच खेल रही हैं. शनिवार को मैच के तीसरे दिन का खेल जारी था, तब कॉमेंट्री बॉक्स में मौजूद एक कॉमेंटेटर ने बड़ी चूक कर दी. उसने भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) को सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) बता कर इंट्रोड्यूस कर दिया. Also Read - रवि शास्‍त्री की इस बात को ध्‍यान में रखकर बल्‍लेबाजी के लिए उतरे थे Shardul Thakur, कहा- ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों ने...

हालांकि जब साथी कॉमेंटेटर डेमियन फ्लेमिंग (Damien Fleming) ने अपने साथी को अहसास कराया तो उन्होंने अपनी इस गलती को तुरंत दुरुस्त कर लिया. Also Read - Shardul Thakur ने बताई आपबीती, मेरे साथ स्‍लेजिंग का प्रयास किया जाता रहा, एक-दो बार तो मैंने...

सुनील गावस्कर जैसे दिग्गज बल्लेबाज को जब सचिन तेंदुलकर बताने की यह घटना घटी उस वक्त भारतीय पारी जारी थी और तब भारत का स्कोर 207/7 था. यहां कॉमेंट्री में बदलाव का समय था और कॉमेंट्री कर रहे ब्रेयशॉ को गावस्कर को इंट्रोड्यूस करना था. उन्होंने कहा, ‘सचिन तेंदुलकर, स्वागत है और डेमियन फ्लेमिंग आपका भी.’ Also Read - वीरेंद्र सहवाग ने अपने ही अंदाज में की शार्दुल-सुंदर की तारीफ, वीवीएस ने कही ये बात

फ्लेमिंग ने तुरंत इस गलती पर गौर किया और कहा, ‘क्या कॉमेंट्री बॉक्स में सचिन तेंदुलकर हैं?’

ब्रेयशॉ को अपनी गलती का अहसास हुआ और उन्होंने कहा, ‘हम बस अभी उनकी ही बात कर रहे थे.’

फ्लेमिंग: ‘यह महान खिलाड़ी (गावस्कर) हैं, लिटिल मास्टर.’

ब्रेयशॉ: ‘मैं माफी चाहता हूं सुनील (गावस्कर), हम बस बात कर रहे थे..’

इसके बाद द ग्रेट सुनील गावस्कर ने माइक हाथ में लेकर माहौल को वापस खुशनुमा बना दिया और कहा, ‘अगर उन्हें सचिन तेंदुलकर कहा जाएगा, तो वह सम्मान महसूस करेंगे.’

गावस्कर: ‘मैं खुशी से फूला नहीं समा रहा हूं. मुझे सचिन तेंदुलकर कहा गया है. इसे सुनकर मेरा सीना चौड़ा हो गया है.’

ब्रेयशॉ: ‘हम बस एक सेकंड पहले उन्हीं की बात कर रहे थे.’

बता दें विश्व क्रिकेट में सुनील गावस्कर भी महान खिलाड़ियों में शामिल हैं. वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे पहले 10,000 रन बनाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज हैं. जिस दौर में गावस्कर क्रिकेट खेलते तब उन्होंने इस खेल के कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए. बाद में सचिन तेंदुलकर ने उनके द्वारा स्थापित किए लगभग बड़े रिकॉर्ड्स अपने नाम कर लिए.