सिडनी टेस्ट मैच के दौरान ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों के व्यवहार की दुनिया भर में कड़ी आलोचना हो रही है. दर्शकों के एक गुट ने भारतीय खिलाड़ियों खासकर मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) और जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) पर खेल के दौरान नस्लवादी टिप्पणियां (Racial Comments in Sydney) की गईं. ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (David Warner) ने दर्शकों के इस बर्ताव की निंदा की है. उन्होंने कहा कि दर्शकों का ऐसा बर्ताव स्वीकार्य नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने सिराज और टीम इंडिया से माफी मांगी है.Also Read - तीसरे वनडे में रुतुराज गायकवाड़, मोहम्मद सिराज को मौका ना मिलने पर भड़के फैंस

पहली बार ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गए सिराज के अलावा भारतीय पेस अटैक के अगुआ जसप्रीत बुमराह को लगातार दो दिनों तक दर्शकों की नस्लीय टिप्पणियों का शिकार होना पड़ा. मैच के चौथे दिन तो उस वक्त खेल भी कुछ देर के लिए रोकना पड़ाथा, जब टीम इंडिया ने अंपायरों से इसकी शिकाया की थी. इसके बाद ऐक्शन लेते हुए 6 दर्शकों को मैदान से बाहर निकाल दिया गया और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इसके लिए माफी भी मांगी है. Also Read - IPL Auction 2022: मेगा ऑक्शन में इन पांच खिलाड़ियों पर दांव लगाएगी MS Dhoni की चेन्नई सुपर किंग्स

Also Read - IPL Auction 2022: इस सीजन 318 विदेशी खिलाड़ी लेंगे हिस्सा, Ravichandran Ashwin समेत इन खिलाड़ियों का 2 करोड़ बेस प्राइज

वॉर्नर ने इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘मैं मोहम्मद सिराज और भारतीय टीम से माफी मांगना चाहता हूं. नस्लवाद या दुर्व्यवहार कहीं भी और कभी भी स्वीकार्य नहीं है. उम्मीद है कि दर्शक आगे से बेहतर बर्ताव करेंगे.’ चोट के कारण पहले दो मैचों में बाहर रहने के बाद सिडनी टेस्ट में अपनी वापसी पर इस बल्लेबाज ने कहा कि मैदान पर वापसी करअच्छा लगा.

#PollOfTheDay: भारतीय खिलाड़ियों के चोटिल होने के बाद क्या चौथे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी है?

#IndVsAus #AusVsInd Ajinkya Rahane #TimPaine Virat Kohli

Posted by India.Com – Hindi on Monday, 11 January 2021

उन्होंने कहा, ‘वापसी करना बहुत अच्छा था. मैच का नतीजा अलबत्ता वैसा नहीं रहा, जैसा हम चाहते थे. लेकिन यही टेस्ट क्रिकेट है. पांच दिन हमने अच्छी क्रिकेट खेली. लेकिन भारत को बधाई, जिसने शानदार वापसी की. यही वजह है कि क्रिकेट से हमें इतना प्यार है, यह आसान खेल नहीं है. अब ब्रिसबेन में निर्णायक मैच पर नजरें टिकी हैं और वहां खेलने का अलग ही मजा है.’

इनपुट : भाषा