भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) की ऑस्ट्रेलिया में शानदार बैटिंग देखकर सिर्फ भारतीय फैन्स ही नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज लेग स्पिनर शेन वॉर्न (Shane Warne) भी चाहते हैं कि इस खिलाड़ी को आगामी टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया का हिस्सा होना ही चाहिए. ऑस्ट्रेलिया में होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए इस बार हार्दिक पांड्या को जगह नहीं मिली है. Also Read - अश्विन को याद आए ऑस्ट्रेलिया में बिताए वो 'बुरे दिन', बोले- ताजा हवा के बिना कमरे में रहना मुश्किल था

टीम इंडिया में ऑलरांउडर के रूप में अपनी जगह बनाने वाले पांड्या इन दिनों गेंदबाजी के लिए फिट नहीं हैं. सीमित ओवरों में वह एक विशेषज्ञ बल्लेबाज के तौर पर खेले थे. लेकिन टेस्ट टीम में उन्हें बॉलिंग नहीं कर पाने के चलते नहीं चुना गया है. हालांकि दूसरा टी20 मैच जीतने के बाद इस खिलाड़ी ने उम्मीद जताई थी कि उन्हें टेस्ट टीम का भी हिस्सा होना चाहिए और अगर टीम मैनेजमेंट चाहे तो वह टेस्ट टीम के साथ रुकने को तैयार हैं. Also Read - IND vs ENG: देखें VIDEO- Virat Kohli ने गुजराती में की Axar Patel की तारीफ, बोले....

तीसरे टी20 मैच के दौरान कमेंट्री करते हुए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज लेग स्पिन शेन वॉर्न ने भी यही राय रखी. उन्होंने कहा कि पांड्या जैसे खिलाड़ी को टेस्ट टीम का हिस्सा भी होना ही चाहिए था. वॉर्न ने कमेंट्री में मजाकिया लहजे में भारतीय क्रिकेट फैन्स को यह सलाह भी दी कि उन्हें हार्दिक पांड्या को टेस्ट टीम में शामिल कराने के लिए अर्जी दाखिल करनी चाहिए. Also Read - Ind vs Eng: अक्षर पटेल ने कहा- बल्ले से नहीं तो गेंद से टीम की जीत में अपना योगदान देकर खुश हूं

कमेंट्री के बाद एक फैन ने शेन वॉर्न से टि्वटर पर भी पांड्या पर उनकी राय मांगी थी. इस फैन ने वॉर्न की कमेंट्री वाली इस बात को शेन वॉर्न को टैग करते हुए वॉर्न की इन लाइनों को पोस्ट किया था.

शेन वॉर्न ने टि्वटर पर इसका जवाब देते हुए लिखा, ‘उन्हें यह (फैन्स को अर्जी लिखनी) करना चाहिए. हार्दिक पांड्या को भारतीय टेस्ट टीम में होना चाहिए. उनके पास अपनी टीम के खिलाड़ियों में ऊर्जा भरने की क्षमता है और वह अपने होने से ही पूरी टीम का माहौल सकारात्मक बना देते हैं. क्रिकेट को उनके जैसे ही कैरेक्टर और सुपरस्टार खिलाड़ियों की जरूरत है.’

बता दें हार्दिक पांड्या ने ऑस्ट्रेलिया में संपन्न हुईं सीमित ओवरों की दो सीरीज (वनडे और टी20i) में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार बैटिंग की. उन्होंने 3 वनडे मैचों की सीरीज में दो बार 90 या इससे ज्यादा का स्कोर बनाया. वहीं टी20 सीरीज में भी उन्होंने एक मैच में 24 गेंदों में नाबाद 42 रन जड़कर भारत को जीत दिलाई. इसके अलावा पांड्या ने बाकी के दो टी20 मैच भी छोटी मगर उपयोगी पारियां खेली थीं. उन्हें टी20 सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज भी चुना गया.