teven-Smith-of-Australia-is-congratulated-by-Brad-Haddin2 Also Read - India vs Australia virat kohli might have to bowl for few overs says tom moody

मेलबर्न: आस्ट्रेलियाई टीम ने कप्तान स्टीवन स्मिथ (192) के नेतृत्व में अपने बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत मेलबर्न क्रिकेट मैदान (एमसीजी) पर जारी बॉक्सिंग डे टेस्ट के दूसरे दिन शनिवार को अपनी पहली पारी में 530 रन बनाए। आस्ट्रेलियाई पारी सिमटने के साथ ही चायकाल की भी घोषणा हुई। अपने करियर के पहले दोहरे शतक से मात्र आठ रनों से चूकने वाले स्मिथ के अलावा पुछल्ले बल्लेबाज रायन हैरिस ने 74, विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रैड हेडिन ने 55, सलामी बल्लेबाज क्रिस रोजर्स ने 57 और मध्य क्रम में शॉन मार्श ने 32 रनों का योगदान दिया। Also Read - IND vs AUS 2nd ODI Live Streaming: कब-कहां और कैसे देखें भारत vs ऑस्ट्रेलिया दूसरे वनडे की Online स्ट्रीमिंग और Live Telecast

स्मिथ ने अपने करियर का अब तक का सर्वोच्च व्यक्तिगत योग बनाया। यह उनके करियर का सातवां और इस सीरीज का तीसरा शतक है। आस्ट्रेलियाई पारी के दौरान तीन शतकीय साझेदारियां हुईं। इसके अलावा दो अर्धशतकीय साझेदारियां भी हुईं। मेजबान टीम ने 142.3 ओवरों का सामना किया। Also Read - India vs Australia 2020/21: सिडनी में वनडे में Virat Kohli का बल्ला रहा है खामोश, करना चाहेंगे ये काम

मेजबान टीम ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक पांच विकेट पर 259 रन बनाए थे। स्मिथ 72 और हेडिन 23 रनों पर नाबाद थे। पहले दिन भारतीय गेंदबाजों के कसे हुए प्रदर्शन के कारण मेजबान टीम 2.84 के औसत से ही रन बना सकी थी लेकिन दूसरे दिन के 52.3 ओवरों के दौरान आस्ट्रेलिया ने पांच से अधिक औसत से रन बटोरे।

भारत की ओर से मोहम्मद समी ने चार विकेट लिए जबकि रविचंद्रन अश्विन तथा उमेश यादव को तीन-तीन सफलता मिली। भारत के चार गेंदबाजों ने 100 से अधिक रन खर्च किए। विकेट पाने वाले गेंदबाजों के अलावा इस सूची में इशांत शर्मा का भी नाम है। समी सबसे महंगे रहे जबकि अश्विन ने सबसे किफायती गेंदबाजी की।

दूसरे दिन के खेल की शुरूआत मेजबान टीम के लिए अच्छी रही। स्मिथ और हेडिन ने छठे विकेट के लिए 110 रनों की साझेदारी की। इसका लगभग आधा इन दोनों ने पहले दिन जोड़ा था। हेडिन 326 के कुल योग पर मोहम्मद समी की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए। हेडिन ने 84 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाया।

हेडिन का विकेट गिरने के बाद स्मिथ का साथ देने आए मिशेल जानसन (28) ने तेजी से रन बटोरे और कप्तान के साथ सातवें विकेट के लिए 50 रनों की साझेदारी निभाई। रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर स्टम्प होने से पहले जानसन ने 37 गेंदों पर पांच चौके लगाए।

ऐसा लगा था कि अब भारतीय गेंदबाज मेजबान टीम को जल्द समेट देंगे लेकिन हैरिस ने कप्तान के साथ आठवें विकेट के लिए 106 रनों की साझदारी कर इस सम्भावना को खत्म कर दिया। हैरिस ने 88 गेंदों का सामना कर आठ चौके और एक छक्का लगाया।

हैरिस 482 के कुल योग पर अश्विन की गेंद पर पगबाधा आउट हुए। हैरिस ने अपना सर्वोच्च व्यक्तिगत योग हासिल किया। इसके बाद स्मिथ ने अपनी बल्लेबाजी को दूसरा ही रुख दे दिया। वह हर गेंद पर रन बटोरने के लिए उतावले नजर आ रहे थे।

स्मिथ का मकसद साफ था। वह अपने दोहरे शतक के साथ-साथ टीम को 500 से ऊपर ले जाना चाहते थे। इस मकसद में वह कामयाब भी हुए। उन्होंने नेथन लॉयन (11) के साथ नौवें विकेट के लिए 48 रनों की साझेदारी निभाई।

लॉयन (15 गेंद, 2 चौके) का विकेट 530 के कुल योग पर समी ने लिया और फिर इसी योग पर यादव ने स्मिथ को आउट करके आस्ट्रेलियाई पारी समेट दी। स्मिथ ने अपनी 305 गेंदों की पारी में 15 चौके और दो छक्के लगाए।

चार मैचों की सीरीज में भारत 0-2 से पीछे है। उसे एडिलेड और ब्रिस्बेन में हार मिली थी। मेलबर्न में भारत ने 1981 के बाद से कोई टेस्ट नहीं जीता है।