भारतीय क्रिकेट टीम ने बेंगलुरू वनडे में ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज 2-1 से जीत ली. सीरीज का पहला मैच 10 विकेट से हारने वाली टीम इंडिया ने शानदार वापसी कर आखिर के दोनों वनडे जीतकर सीरीज जीती. Also Read - ICC Test Rankings: Rohit Sharma ने हासिल की करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग, R. Ashwin भी तीसरे पायदान पर

आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप: भारत ने अपने पहले मैच में श्रीलंका को 90 रन से रौंदा Also Read - Devdutt Paddikal: शतक पर शतक लगा रहा है विराट कोहली का ये ओपनर बल्लेबाज, क्या IPL में RCB के लिए फिर करेगा कमाल

सीरीज जीत से गदगद टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने पिछले साल ऑस्ट्रेलिया पर भारत की टेस्ट सीरीज में जीत की सराहना नहीं करने वाले आलोचकों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अब कोई नहीं कह सकता कि हम कमजोर ऑस्ट्रेलियाई टीम से खेले. Also Read - मोटेरा पिच को लेकर कोहली के बयान से नाराज हैं एलेस्टर कुक; कहा- उस पिच पर बल्लेबाजी करना बेहत मुश्किल

कप्तान विराट कोहली की अगुवाई में भारत ने ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर पहली टेस्ट सीरीज जीती थी. ऑस्ट्रेलियाई टीम में उस समय डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ नहीं थे.

बकौल शास्त्री, ‘इस टीम ने शानदार प्रदर्शन किया. कोई नहीं कह सकता कि हम कमजोर ऑस्ट्रेलियाई टीम से हारे. मुंबई में हारने के बाद लगातार दो मैच जीतना और इतनी यात्रा के बीच जबकि ऑस्ट्रेलिया ने तीनों मैचों में टॉस जीता.’

रोहित-कोहली की दमदार बल्लेबाजी के दम पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हरा 2-1 से जीती सीरीज

ऑस्ट्रेलिया में भारत की टेस्ट सीरीज में जीत के बाद बीसीसीआई के मौजूदा अध्यक्ष सौरव गांगुली समेत कइयों ने कहा था कि यह पूरी मजबूत ऑस्ट्रेलियाई टीम नहीं थी. इस बार हालांकि जिस ऑस्ट्रेलियाई टीम को भारत ने हराया, उसमें स्मिथ और वॉर्नर दोनों थे.

टीम इंडिया सोमवार को न्यूजीलैंड दौरे के लिए रवाना होगी जहां उसे 5 टी-20, 3 वनडे और 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने हैं.