बॉक्सिंग डे टेस्‍ट (Boxing Day Test) के दौरान भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने कुल पांच विकेट लिए. पहली पारी में उन्‍हें तीन और दूसरी पारी में दो सफलताएं मिली. इसके साथ ही अश्विन ने टेस्‍ट क्रिकेट में स्पिन के दिग्‍गज मुथैया मुरलीधरन (M Muralitharan) का बड़ा रिकॉर्ड तोड़ दिया है. अश्विन खेल के सबसे लंबे प्रारूप में सर्वाधिक बाएं हाथ के बल्‍लेबाजों (Dismissing most left-handers in Test cricket) को आउट करने वाले गेंदबाज बन गए है.Also Read - Axar Patel ने दोनों पारियों में मिलाकर ठोक दिए 93 रन, 'विक्रम राठौड़ को मेरी बल्‍लेबाजी क्षमता पर भरोसा'

मुथैया मुरलीधरन (M Muralitharan) ने अपने टेस्‍ट करियर के दौरान सर्वाधिक 800 विकेट अपने नाम किए. अन्‍य कोई गेंदबाज इस मामले में उनके आसपास भी नहीं है. दूसरे स्‍थान पर मौजूद ऑस्‍ट्रेलिया के शेन वॉर्न भी उनसे काफी पीछे हैं. Also Read - IND vs NZ, 2nd Test: Ajaz Patel ने तोड़ा हमवतन खिलाड़ी का रिकॉर्ड, Richard Hadlee ने बताया 'हकदार'

अश्विन ने अभी मुरलीधरन (M Muralitharan) के मुकाबले टेस्‍ट क्रिकेट में आधी विकेट भी नहीं ली हैं. उनके नाम अभी महज 375 विकेट ही हैं. अश्विन ने आधे से भी कम विकेट लेने के बावजूद मुरलीधरन (Ravichandran Ashwin) को बाएं हाथ के बल्‍लेबाजों को आउट करने के मामले में पीछे छोड़ दिया है. Also Read - IND vs NZ, 2nd Test: Ajaz Patel ना दोहराएं इतिहास, स्टेडियम में फैंस कर रहे थे 'डिक्लेयर' की मांग, भारतीय टीम ने दिखाई खेलभावना

मुरलीधरन (M Muralitharan) ने अपने 800 में से 191 विकेट बाएं हाथ के बल्‍लेबाजों के लिए. वहीं, अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने 375 में से 192 विकेट लेफ्टी बैट्समैन के ले लिए है. यानी अश्विन ने अपने करियर में अबतक 51 प्रतिशत दाएं हाथ के बल्‍लेबाजों को आउट किया जबकि मुरलीधरन ने 76 प्रतिशत दाएं हाथ के बल्‍लेबाज और महज 24 प्रतिशत बाएं हाथ के बल्‍लेबाजों को आउट किया.

इंग्‍लैंड के जेम्‍स एंडरसन ने 600 में से 186, ग्‍लेन मैक्‍ग्रा ने 563 में से 172, शेन वॉर्न ने 708 में से 172 और अनिल कुंबले ने 619 में से 167 बाएं हाथ के बल्‍लेबाजों को आउट किया.