भारतीय क्रिकेट टीम मैनेजमेंट ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्ट के लिए चुनी प्लेइंग इलेवन में मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) की जगह रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को सलामी बल्लेबाजी की जिम्मेदारी सौंपी है। कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने भी टीम के ऐलान से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पुष्टि की है कि रोहित तीसरे टेस्ट में शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी करेंगे।Also Read - IPL 2022 Retention LIVE Streaming: कब और कहां देखें आईपीएल रिटेंशन लाइव स्ट्रीमिंग

हालांकि पूर्व ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर ब्रैड हॉग (Brad Hogg) इससे सहमत नहीं है। हॉग का मानना है कि रोहित को सिडनी टेस्ट में शीर्ष के बजाय मध्यक्रम में बल्लेबाजी करनी चाहिए। हॉग के मुताबिक रोहित को मयंक अग्रवाल नहीं बल्कि हनुमा विहारी की जगह दी जानी चाहिए थी। साथ ही उन्होंने शुबमन गिल और मयंक की सलामी जोड़ी को आगे मौका देने का भी समर्थन किया। Also Read - T20 World Cup में भारत जैसे पाकिस्तान के खिलाफ खेला, वह उनका खेल नहीं: Inzamam Ul Haq

अपने यू-ट्यूब चैनल पर पोस्ट किए वीडियो में हॉर ने कहा, “जिस वजह से रोहित शर्मा को ऑस्ट्रेलिया में परेशानी होती है वो ये है कि वहां अतिरिक्त उछाल और मूवमेंट होता है, वो अपने शरीर से दूर खेलता है और इससे वो नई गेंद के खिलाफ स्लिप पर कैच के मौके बनाएगा।” Also Read - IND A vs SA A Test Day 3: Abhimanyu Easwaran ने जड़ा शतक, ड्रॉ की ओर मुकाबला

पूर्व गेंदबाज ने कहा, “मैं उसे (रोहित शर्मा को) ऑस्ट्रेलिया में निचले क्रम में खिलाउंगा और उम्मीद करता हूं कि शीर्ष क्रम ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को थका दे ताकि जब वो आए तो पूरी आजादी के साथ खेल सके।”

हॉग ने चोटिल उमेश यादव की जगह प्लेइंग इलेवन में शामिल हुए युवा तेज गेंदबाज नवदीप सैनी (Navdeep Saini) की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, “अतिरिक्त गति के लिए मैं सैनी के साथ जाउंगा। आपके पास ऐसा गेंदबाज है जो लाबुशाने और स्टीव के खिलाफ शॉर्ट पिच गेंदबाजी कर सकता है जो कि पहले भी शॉर्ट बॉल के खिलाफ परेशान हुए हैं।”