भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज को लेकर चर्चा अब जोरों पर है. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा (Glenn McGrath) ने भी इस सीरीज को लेकर भविष्यवाणी कर दी है. मैक्ग्रा ने कहा कि भले भारत ने कंगारुओं को पिछली बार उनके घर में मात दी हो लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा. इस बार ऑस्ट्रेलिया के पास मिशेल स्टार्क (Mitchell Starc) के रूप में एक्स-फैक्टर है, जिसके कारण ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारत से थोड़ा भारी है. Also Read - India vs Australia- युवा खिलाड़ी बोला- मेरा पहला ऑस्ट्रेलिया दौरा, कोई टारगेट नहीं लेकिन करूंगा अच्छा

यह पूर्व दिग्गज गेंदबाज सोनी द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सीमित पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे. सॉनी इस सीरीज का भारत में प्रसारण करेगा. इस पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कहा कि भारत 2018-19 में जीती सीरीज के बाद यहां जो भी चुनौती पेश करेगा वह अपनी शानदार फास्ट बॉलिंग के दम पर करेगा. Also Read - विराट कोहली ने मोहम्मद सिराज को किया प्रेरित, बोले- ये हालात तुम्हें मजबूत बनाएंगे

क्रिकइन्फो में प्रकाशित इस रिपोर्ट के मुताबिक, मैक्ग्रा ने कहा, ‘उमेश यादव के पास अपरिपक्व पेस है. मोहम्मद शमी के पास बॉल पर अच्छा नियंत्रण है और वह दोनों ओर स्विंग कराते हैं. जसप्रीत बुमराह इस पेस अटैक की क्लास हैं. उनके पास गजब की मानसिक शक्ति भी है उनका दूसरा और तीसरा स्पेल भी उतना ही तेज होता है, जितना की पहला. ये ऐसे खिलाड़ी हैं, जो अगर आग उगलने लगे तो फिर उन्हें हराना मुश्किल होगा.’ Also Read - India vs Australia: यह कंगारू खिलाड़ी बढ़ाएगा भारत की टेंशन, रिकी पोंटिंग ने कह दी यह बड़ी बात

इसके बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई पेस अटैक की तारीफ करते हुए कहा, ‘उनके (ऑस्ट्रेलिया) पास जोश हेजलवुड हैं, जो अच्छा एरिया में बॉल फेंकते हैं और लंबे और मजबूत भी हैं.’

ऑस्ट्रेलिया के लिए 563 टेस्ट विकेट लेने वाले इस दिग्गज ने कहा, ‘हेजलवुड के बाद उनके पास पैट कमिंस है, जो दुनिया में नंबर 1 गेंदबाज हैं. वह पूरे दिन बॉलिंग कर सकते हैं. हमेशा अपना 100 फीसदी झोंकते हैं. वह हमेशा कुछ अलग कोण बॉलिंग करते हैं. उनके दौड़ने के ढंग के कारण उन्हें हमेशा एक नया एंगल मिलता है. इसके बाद उनके पास लेफ्टआर्म फास्ट बॉलर मिशेल स्टार्क हैं. जब वह लय में होते हैं, तब वह 4-5 विकेट एक बार में अपने नाम कर लेते हैं. उनके पास वह एक्स-फैक्टर है.’

124 टेस्ट खेलने वाले मैक्ग्रा ने कहा, ‘अगर दोनों टीमें अपने पूरे दमखम से बॉलिंग करें, तो मैं ऑस्ट्रेलिया को ही आगे रखना चाहूंगा इसका सिर्फ एक ही कारण है क्योंकि उनके पास मिशेल स्टार्क हैं, जो बड़े प्रभावशाली साबित होंगे.’ इस खिलाड़ी ने कहा कि इस बार विराट कोहली भी पहले टेस्ट के बाद टीम में नहीं होंगे, इससे चेतेश्वर पुजारा पर दबाव बड़ेगा. पिछली बार पुजारा के कारण ही भारत यहां सीरीज जीता था. उन्होंने 3 शतकों की मदद से यहां 571 रन बनाए थे. इस बार विराट की गैर-मौजूदगी में भारतीय टीम पुजारा पर बहुत निर्भर करेगी.