ब्रिसबेन में वाशिंगटन सुंदर के साथ 123 रन की साझेदारी बनाकर हीरो बने भारतीय ऑलराउंडर शार्दुल ठाकुर अपने प्रदर्शन से बेहद खुश हैं. मैच के बाद उन्‍होंने खुलासा किया कि उनकी बल्‍लेबाजी के दौरान मेजबाना टीम लगातार स्‍लेज करने की कोशिश करती रही. उन्‍होंने एक दो बार उन्‍हें इसपर जवाब भी दिया.Also Read - टीम RCB ने एक साथ देखा DC-MI मुकाबला, विराट बोले- धन्‍यवाद मुंबई, हम इसे याद रखेंगे

शार्दुल ठाकुर ने मैच में 67 रनों का अहम योगदान दिया. तीसरे दिन का खेल खत्‍म होने के बाद ठाकुर ने पत्रकारों से बात की. उन्‍होंने कहा, “कंगारू टीम के खिलाड़ी मेरे साथ स्‍लेजिंग करने का प्रयास कर रहे थे लेकिन मैंने उसपर ध्‍यान नहीं दिया. मैंने केवल एक या दो बार उन्‍हें जवाब दिया. कई आम सवाल किए गए. मेरे साथ स्‍लेजिंग करने का प्रयास किया जाता रहा. मैंने उन्‍हें सुना भी नहीं. मैं बस खेलता रहा.” Also Read - #RedTurnsBlue दिल्ली के खिलाफ मैच से पहले मुंबई इंडियंस के समर्थन में उतरी RCB

शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर ने 186/6 के स्‍कोर से भारत को मुश्किल से उबारने की जिम्‍मेदारी उठाई. दोनों ने 35 से ज्‍यादा ओवरों तक बल्‍लेबाजी की. इस दौरान कंगारू गेंदबाज दोनों के संयम के आगे परेशान होते नजर आए. कप्‍तान विराट कोहली ने भी दोनों के प्रदर्शन की तारीफ करते हुए कहा कि इसे कहते हैं असली टेस्‍ट क्रिकेट. Also Read - कप्तानी छोड़ने के बाद भी भारत के लिए एशिया कप और टी20 विश्व कप जीतना चाहते हैं विराट कोहली

मौजूदा मैच में ऑस्‍ट्रेलिया ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 369 रन बनाए. वहीं, जवाब में टीम इंडिया की तरफ से पहले छह बल्‍लेबाज महज 186 रन ही बना पाए. फिर शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर ने 123 रन की साझेदारी बनाकर भारत को मुश्किल से निकाला. ऑस्‍ट्रेलिया ने 33 रन की साझेदारी बनाई.