ब्रिसबेन में होने वाले सीरीज के चौथे टेस्‍ट मैच के दौरान भारतीय टीम को सख्‍त क्‍वरंटाइन नियमों को पालन करना होगा. हालांकि भारतीय टीम इसके सख्‍त खिलाफ है. वेबसाइट क्रिकब्रज ने टीम इंडिया के एक सदस्‍य से बातचीत की. नाम नहीं बताने की शर्त पर क्रिकेटर ने उन्‍हें बताया कि वो चिड़ियाघर में जानवर की तर्ज पर रहकर नहीं खेलना चाहते हैं.Also Read - Shardul Thakur Engagement: शार्दुल ठाकुर आज कर रहे हैं सगाई, मुंबई में होगा समारोह

खिलाड़ी ने कहा, “ये विरोधाभासी है कि आप फैन्‍स को स्‍टेडियम में आकर मैच देखने की इजाजत दे रहे हैं और मैदान पर प्रदर्शन करने वाले क्रिकेटर्स को वापस होटल जाकर क्‍वारंटाइन रहने पर मजबूर कर रहे हैं. ऐसा तब हो रहा है जब हम कोरोना वायरस के टेस्‍ट में नेगेटिव पाए गए हैं. हम अपने साथ चिड़ियाघर में जानवरों जैसा बर्ताव नहीं चाहते हैं.” Also Read - टी20 विश्व कप 2021 से पहले विराट कोहली और रवि शास्त्री के बीच आ गई थी दरार: इंजमाम-उल-हक

भारत को अब अपना अगला मुकाबला सात जनवरी से मेजबान टीम के खिलाफ सिडनी में खेलना है. हालांकि वहां बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए टीम इस वक्‍त मेलबर्न में ही रुकी हुई है. Also Read - पूर्व दिग्गज राहुल द्रविड़ का मुख्य कोच बनना टीम इंडिया के लिए फायदेमंद: श्रीधरन श्रीराम

सिडनी से ज्‍यादा कठोर क्‍वारंटाइन नियमों को ब्रिसबेन में लगाया गया है. ऐसे में टीम इंडिया की तरफ से वहां जाकर खेलने पर दिलचस्‍पी नहीं दिखाई जा रही है. क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया इस वक्‍त क्‍वीन्‍सलैंड सरकार से अनुरोध कर टीम इंडिया के लिए नियमों में कुछ रियायत दिए जाने की जुगत में लगा है. भारतीय क्रिकेटर्स का कहना है कि उनके साथ ठीक वैसा ही सलूख किया जाए जैसा ऑस्‍ट्रेलिया के नागरिकों के साथ किया जा रहा है.