रांची टेस्ट के चौथे दिन चेतेश्वर पुजारा और रिद्धिमान साहा छाए रहे और पुजारा दोहरा शतक और साहा शतक बनाकर आउट हुए। चौथे दिन भारतीय पारी के दौरान एक मजेदार घटना हुई जब अंपायर ने नॉट आउट होने पर भी पुजारा को लगभग आउट ही दे दिया था।

दरअसल भारतीय पारी के 140वें ओवर जोश हेजलवुड की लेग साइड की तरफ जा रही गेंद पर पुजारा ने शॉट लगाने की कोशिश की और गेंद विकेटकीपर वेड के हाथों पर पहुंची, वेड ने हल्की सी अपील की, हालांकि ये स्पष्ट था कि गेंद और बैट का जरा भी संपर्क नहीं हुआ है।

लेकिन तभी अचानक अंपायर क्रिस गैफेनी अपनी अंगुली उठाते हुए नजर आए लेकिन अंगुली पूरी तरह से हवा में उठाकर पुजारा को आउट देने से पहले ही गैफेनी को शायद अपनी गलती का अहसास हो गया और उन्होंने अपना हाथ अपनी कैप पर रख लिया। लेकिन इस घटना के बाद दूसरे अंपायर इयान गोल्ड और टीवी कॉमेंटेटर्स को ठहाके लगाने का मौका दे दिया।

ऐसा लगा कि अंपायर गैफेनी अचानक अपना ध्यान गंवा बैठे थे और आउट न होने पर भी पुजारा को लगभग आउट ही दे दिया था।