भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) ने इंदौर टेस्ट मैच में बांग्लादेश (IndiavsBangladesh) को तीसरे दिन ही पारी और 130 रन से रौंद दिया. टीम इंडिया की लगातार ये छठी टेस्ट जीत है. दो मैचों की सीरीज में विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुआई वाली टीम इंडिया 1-0 से आगे हो गई है. Also Read - Ind vs Eng: स्पिनर जैक लीच ने कहा- पिच पर नहीं खुद को बेहतर करने पर ध्यान दे रही है इंग्लैंड टीम

Also Read - Top 10 Most followed Person on instagram: इंस्टाग्राम पर 10 सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले व्यक्ति, विराट कोहली हैं कोसों पीछे

युवराज बोले- क्रिकेट की दुनिया में यह नया फॉर्मेट टी20 की तरह क्रांति लाने वाला होगा Also Read - इंस्टाग्राम पर 100 मिलियन हुई Virat Kohli के चाहने वालों की तादाद, पहले भारतीय

भारत की बांग्लादेश के खिलाफ 10 टेस्ट मैचों में ये 8वीं जीत है। दोनों टीमों के बीच दो टेस्ट ड्रॉ रहे हैं। दोनों टीमों के बीच ये 7वीं टेस्ट सीरीज है.  मौजूदा सीरीज आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (ICC WORLD TEST CHAMPIONSHIP) के अंतर्गत खेली जा रही है.

इंदौर में मिली टेस्ट जीत से भारत को 60 अंक मिले जिससे उसने कुल 300 अंक के साथ प्वाइंट्स टेबल में अपनी जगह और मजबूत कर लिया है. भारत की इस जीत में जिन 5 खिलाड़ियों ने अहम भूमिका निभाई वह मोहम्मद शमी, उमेश यादव, रविचंद्रन अश्विन, मयंक अग्रवाल और अजिंक्य रहाणे हैं.

मयंक अग्रवाल का ‘डबल’ धमाल

इंदौर टेस्ट शुरू होने से पहले पिच क्यूरेटर ने साफ तौर पर कहा था कि इस पिच में बल्लेबाजों और गेंदबाजों दोनों के लिए कुछ ना कुछ है. हुआ भी कुछ ऐसा ही. पहले भारतीय गेंदबाजों ने कमाल की गेंदबाजी कर बांग्लादेश को पहली पारी में 150 रन पर ही समेट दिया. इसके बाद भारतीय ओपनर मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने जमकर बल्लेबाजी करते हुए 243 रन ठोक डाले.

विराट कोहली बोले- बुमराह टीम में नहीं है, फिर भी यह किसी भी कप्‍तान का ड्रीम संयोजन है

मैन ऑफ द मैच चुने गए मयंक ने अपनी मैराथन पारी में 330 गेंदों पर 28 चौके और 8 छक्के लगाए. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 8वें टेस्ट मैच की 12वीं पारी में ही 2 दोहरे शतक जड़ कई दिग्गजों को भी पीछे छोड़ दिया है जिसमें सर डॉन ब्रैडमैन (Don Bradman) भी शामिल हैं.

अहम मौकों पर मोहम्मद शमी ने दिलाए ब्रेक थ्रू

अनुभवी तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) ने इस टेस्ट मैच में कुल 7 विकेट अपने नाम किए जिसमें पहली पारी के तीन जबकि दूसरी पारी के चार विकेट शामिल थे. शमी पिछले कुछ समय से बेहतरीन फॉर्म में चल रहे हैं. इतना ही नहीं उन्होंने अहम मौकों पर टीम को ब्रेक थ्रू दिलाए.

युवा तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की गैरमौजूदगी में इस समय शमी टीम इंडिया की पेस अटैक की अच्छी तरह से अगुआई कर रहे हैं. शमी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में भी दमदार प्रदर्शन किया था. 29 वर्षीय शमी का पहली पारी में इकोनोमी 2.07 रहा जबकि दूसरी पारी में उन्होंने 1.93 की इकोनोमी के साथ गेंदबाजी की.

अजिंक्य रहाणे की ‘संकटमोचक’ पारी

टेस्ट टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) उस समय बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर उतरे जब टीम इंडिया ओपनर रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली का विकेट गंवा चुकी थी.

ऐसे में वह टीम को मुश्किल से बाहर निकालने के लिए क्रीज पर आए और मयंक के साथ मिलकर पारी को 300 रन के पार पहुंचाया. उन्होंने 172 गेंदों पर 9 चौकों की मदद से 86 रन बनाए. वेस्टइंडीज दौरे से लेकर अब तक रहाणे ने छठी बार 50 से अधिक का स्कोर किया.

रविचंद्रन अश्विन का ‘पंच’

ऑफ स्पिनर आर अश्विन (R Ashwin) ने पहली पारी में बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक को बोल्ड कर घरेलू सरजमीं पर अपना 250वां टेस्ट शिकार पूरा किया. पहली पारी में जब तेज गेंदबाज थोड़े ढीले लगने लगे थे तब अश्विन ने उस कमी को पूरा किया. उन्होंने विपक्षी टीम पर ना केवल दबाव बनाया बल्कि अहम मौकों पर विकेट भी चटकाए. अश्विन ने पहली पारी में दो जबकि दूसरी पारी में तीन विकेट सहित कुल 5 विकेट अपने नाम किए.

अश्विन ने दूसरी पारी में पूर्व कप्तान मुशफिकुर रहीम और लिटन दास को आउट कर अहम साझेदारियां तोड़ी और इबादत हुसैन को आउट कर जीत की औपचारिकता पूरी की.

उमेश यादव ने दोनों पारियों में दिलाई शुरुआती सफलता

पेसर उमेश यादव (Umesh Yadav) ने गेंद के साथ बल्ले से भी धमाल मचाया. भले ही उन्होंने मैच में कुल चार विकेट लिए हों लेकिन उन्होंने एक छोर से विपक्षी बल्लेबाजों पर दबाव बनाए रखा. नतीजतन दूसरे छोर से अन्य गेंदबाज विकेट चटकाते रहे.

उमेश ने दोनों पारियों में टीम इंडिया को पहली सफलता दिलाई. इस गेंदबाज ने दोनों पारियों में विपक्षी ओपनर इमरुल कायेस का विकेट निकाला जिससे बांग्लादेश को अच्छी शुरुआत नहीं मिल सकी. कायेस दोनों पारियों में 6-6 रन बनाकर आउट हुए.

टीम इंडिया के इस तेज गेंदबाज ने गेंदबाजी में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद बल्लेबाजी में जमकर हाथ दिखाए. उन्होंने 10 गेंदों का सामना करते हुए 250 की स्ट्राइक रेट से तीन छक्के और एक चौके की मदद से नाबाद 25 रन बनाए.

सीरीज का दूसरा और अंतिम टेस्ट मैच 22 नवंबर से कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स (Eden Gardens) में गुलाबी गेंद (Pink Ball) से खेला जाएगा.