नई दिल्ली: टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच लंदन के लॉर्ड्स मैदान में गुरुवार को टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच खेला जायेगा. पहले मुकाबले में हार का सामना करने के बाद भारतीय टीम के सामने सीरीज में वापसी करने की बड़ी चुनौती होगी. हालांकि इस मैच में कप्तान विराट कोहली ने शानदार प्रदर्शन किया था. लेकिन कोहली के अलावा टीम का कोई भी बल्लेबाज अच्छा प्रर्दशन नहीं कर पाया. मैच के दो दिन पहले लॉर्ड्स पर काफी घास थी, लेकिन कल पहली गेंद पड़ने से पहले इसकी छंटाई होने की उम्मीद है. यदि नहीं भी होता है तो ऐसा माना जा रहा है कि पिच सूखी ही होगी. ऐसे स्थिति में टीम इंडिया को अपनी गेंदबाजी से जुड़ी नई रणनीति बनानी होगी. Also Read - India vs Australia 3rd ODI Match Preview: क्लीन स्वीप से बचना चाहेगी टीम इंडिया, कैनबरा में होगा मैच

Also Read - India vs Austalia, 3rd ODI, Predicted XI: दोनों टीमों का कैसा रहेगा प्‍लेइंग-XI, जानें मौसम का हाल और Pitch Report

पहले टेस्ट में बल्लेबाजों के नाकाम रहने के बावजूद गेंदबाजी कोच भरत अरूण ने अतिरिक्त बल्लेबाज को उतारने की संभावना से इनकार किया. उन्होंने यह भी कहा कि दूसरे स्पिनर पर विचार हो सकता है. ऐसे में उमेश यादव को बाहर रहना पड़ सकता है क्योंकि ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और हार्दिक पांड्या तेज गेंदबाजी का जिम्मा संभालेंगे. दूसरे स्पिनर के लिये चयन की दुविधा होगी. पिछली बार रविंद्र जडेजा ने 2014 में लॉर्ड्स पर खेलते हुए दोनों पारियों में तीन विकेट लिये थे लेकिन दूसरी पारी में 68 रन बनाये थे जिससे भारत मैच जीतने वाला स्कोर बनाने में कामयाब रहा. Also Read - IND vs AUS 2020-21 3rd ODI Dream11 Team Prediction: तीसरे वनडे में इन 11 खिलाड़ियों के साथ उतर सकती हैं भारत-ऑस्ट्रेलिया की टीमें

बर्थडे स्पेशल: विलियमसन की बेस्ट इनिंग, जब घुटने टेकने पर मजबूर हुए थे ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज

कुलदीप यादव की भी अनदेखी नहीं की जा सकती. उसने नेट पर कप्तान कोहली को गेंदबाजी करके कई मौकों पर उन्हें परेशान किया. कप्तान ने उनकी गेंदबाजी की तारीफ की है और इंग्लैंड में कलाई की स्पिन गेंदबाजी काफी कारगर साबित हो सकती है.

बल्लेबाजी क्रम में भी कोहली के सामने कठिन चुनौती है. कप्तान ने पहले टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा पर शिखर धवन को तरजीह दी जिससे के एल राहुल को अंतिम एकादश में जगह मिली. तीसरे नंबर के लिये प्रयोग टीम प्रबंधन के लिये कोई नयी बात नहीं है. इससे पहले 2014-15 में कोहली और रवि शास्त्री ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में चौथे टेस्ट में पुजारा की जगह तीसरे नंबर पर रोहित शर्मा को उतारा था.

भारतीय टीम ने द.अफ्रीका ए को बुरी तरह हराया, सिराज ने झटके 10 विकेट

इसके बाद बांग्लादेश और श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट में भी यह प्रयोग जारी रहा लेकिन अगले दो टेस्ट में अजिंक्य रहाणे को तीसरे नंबर पर उतारा गया. पुजारा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2015 की घरेलू श्रृंखला में तीसरे नंबर पर लौटे और छह टेस्ट तक यही क्रम जारी रहा. इसके बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ 2016 में सेंट लूसिया टेस्ट में उन्हें फिर बाहर कर दिया गया.

कोहली उस मैच में तीसरे नंबर पर उतरे और दो पारियों में तीन और चार रन बनाये. टीम प्रबंधन को अब यह तय करना है कि इस सत्र में काउंटी क्रिकेट खेलने वाले पुजारा के लिये अंतिम एकादश में जगह है या नहीं. धवन सिर्फ 26 और 13 रन बना सके जबकि राहुल ने चार और 13 रन बनाये.

दूसरी ओर इंग्लैंड टीम में डेविड मालान को बाहर किया गया है लेकिन बेन स्टोक्स कानूनी मामले के कारण उपलब्ध नहीं हैं .जो रूट को यह तय करना है कि उन्हें दो स्पिनर चाहिये या नहीं. मोईन अली का साथ देने के लिये 20 बरस के ओलिवर पोप को उतारा जा सकता है जबकि तेज गेंदबाजी का जिम्मा जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्राड और सैम कुरेन संभालेंगे.

सचिन ने कोहली को दिया ‘सक्सेस मंत्र’, बेस्ट परफॉर्मेंस के लिए ये काम करना जरूरी

टीमें :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, दिनेश कार्तिक, रिषभ पंत, करूण नायर, हार्दिक पांड्या, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, कुलदीप यादव, ईशांत शर्मा, उमेश यादव, शर्दुल ठाकुर, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह.

इंग्लैंड : जो रूट (कप्तान), एलेस्टेयर कुक, कीटोन जेनिंग्स, जानी बेयरस्टा, जोस बटलर, ओलिवर पोप, मोईन अली, आदिल रशीद, जैमी पोर्टर, सैम कुरेन, जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड, क्रिस वोक्स.