नई दिल्ली : टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का पांचवां और आखिरी मैच 7 सितंबर से लंदन के ओवल मैदान में खेला जायेगा. इस मुकाबले से पहले चौथे मैच में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था. इस हार के साथ वह सीरीज को भी हार गई. इंग्लैंड ने 3-1 से सीरीज में बढ़त बना ली है. अब अगला मुकाबला लंदन के ओवल मैदान में खेला जाना है. इस मैदान में भारत का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है. लिहाजा विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया को पूरी तैयारी के साथ मैदान में उतरना होगा. Also Read - पापा बनने के बाद Virat Kohli ने टि्वटर पर अपडेट किया अपना बायो, लिखी यह खास बात

Also Read - LIVE Cricket Score, IND vs AUS: बारिश के चलते जल्‍द खत्‍म हुआ मैच, भारत 4/‍0, जीत के लिए 324 रनों की दरकार

दरअसल भारतीय टीम ने लंदन के ओवल में अब तक कुल 12 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें से महज एक मैच में जीत हासिल की. वहीं 4 मैच में हार का सामना करना पड़ा. इसके अलावा 7 मैच ड्रॉ रहे हैं. इस मैच में भारत की जीत का प्रतिशत बेहद कम है. भारत ने यहां आखिरी टेस्ट मैच 2014 में खेला था. महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेले गए इस मुकाबले में इंग्लैंड पारी और 244 रन से जीता था. Also Read - Shardul Thakur ने बताई आपबीती, मेरे साथ स्‍लेजिंग का प्रयास किया जाता रहा, एक-दो बार तो मैंने...

टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में होगा बड़ा बदलाव, लोकेश राहुल होंगे बाहर ये खिलाड़ी करेगा डेब्यू!

इससे पहले टीम इंडिया ने 2011 में टेस्ट मुकाबला खेला था. इस मैच में भारत को पारी और 8 रन से हार का सामना करना पड़ा था. यह मुकाबला भी धोनी की कप्तानी में खेला गया था. इस मैदान में भारत ने सिर्फ एक मैच जीता है, जो कि 1971 में खेला गया था.

अगर मौजूदा सीरीज की बात करें तो इसमें अब तक भारतीय टीम काफी संघर्ष करती नजर आयी है. टीम के ओपनर खिलाड़ियों के साथ मध्यक्रम भी फ्लॉप हुआ. हालांकि कप्तान कोहली और चेतेश्वर पुजारा ने एक-एक शतक लगाए हैं. सीरीज का पहला मैच बर्मिंघम में खेला गया, जो कि इंग्लैंड ने 31 रन से जीता.

रवि शास्त्री संग रिलेशनशिप पर निमरत कौर का जवाब, ट्वीट कर बतायी सच्चाई

इस तरह दूसरा मैच लंदन के लॉर्ड्स में खेला गया. यह मैच भारत ने पारी और 159 रन से गंवाया. हालांकि तीसरे मैच में टीम इंडिया ने 203 रन से जीत हासिल की. इसके बाद फिर चौथे मैच में हार का सामना किया.