क्रिकेट पंडित अभी तक इस बात को हजम नहीं कर पा रहे हैं कि लॉर्ड्स टेस्ट के 5वें दिन जीत की प्रबल दावेदार दिख रही इंग्लैंड भारत (India Beat England in Lord’s Test) से वह मैच हार भी सकती है. लेकिन ऐसा हो गया है. इंग्लैंड के गेंदबाज भारत के शीर्ष 8 विकेट 209 रन पर झटकने के बाद 9वां विकेट नहीं झटक पाए और (Mohammed Shami) मोहम्मद शमी (56*) और (Jasprit Bumrah) जसप्रीत बुमराह (34*) ने अविजित 89 रन जोड़कर इंग्लैंड के हाथ से यह मैच छीन लिया. शेन वॉर्न (Shane Warne) ने कहा कि इंग्लिश गेंदबाजों के पास इन दोनों को आउट करने की कोई योजना ही नहीं थी. अंत में उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ा.Also Read - टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री से नाराज है BCCI

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिन गेंदबाज शेन वार्न (Shane Warne)एसईएन से कहा, इंग्लैंड के गेंदबाज खड़े होकर अपने सिर पर हाथ रखे हुए कह रहे थे कि क्या गलत हुआ. उनके पांच से सात खिलाड़ी बाउंड्री लाइन पर खड़े थे और गेंदबाज इस सोच में डूबे थे कि हम इन बल्लेबाजों को कैसे आउट करें. Also Read - India vs England- मैनचेस्टर टेस्ट रद्द होने का कारण मैं नहीं, बनाया जा रहा है बलि का बकरा: Ravi Shastri

वॉर्न ने आगे कहा, इंग्लैंड के गेंदबाज थोड़े भावुक हो गए जिस के चलते उन्होंने शॉर्ट गेंदों का इस्तेमाल करना शुरु कर दिया पर अंत मे जिस टीम ने अच्छा खेल दिखाया उसे जीत मिली और वो टीम इंडिया रही. Also Read - कोविड 19 से उबरे Ravi Shastri, Bharat Arun और R. Sridhar, लेकिन भारत लौटने से पहले चाहिए यह सर्टीफिकेट

इंग्लैंड की टीम को भारत ने 60 ओवर में 272 रन का लक्ष्य दिया था लेकिन अपनी दूसरी पारी में पूरी इंग्लिश टीम 120 रन पर ऑलआउट हो गई. उसे इस टेस्ट में 151 रन की करारी हार का सामना करना पड़ा और अब वह 5 टेस्ट की सीरीज में 1-0 से पीछे है.

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) ने भी माना की उनकी टीम शमी और बुमराह के खिलाफ रणनीतिक चूक कर गई. हालांकि उन्होंने इस बात से इनकार किया कि उन्होने बदला लेने के लिए बुमराह को शॉर्ट गेंदें फेंकी. उन्होंने कहा, ‘शमी और बुमराह की साझेदारी बिना किसी सवाल के खेल का महत्वपूर्ण क्षण था और मुझे नहीं लगता कि मैंने इसे काफी अच्छी तरह से हैंडल किया.’

(इनपुट : आईएएनएस)