भारतीय स्पिन ऑलराउंडर अक्षर पटेल (Axar Patel) ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट के पहले दिन टेस्ट करियर का दूसरा पांच विकेट हॉल लिया। अपने घरेलू मैदान पर छह विकेट लेने वाले भारतीय लेफ्ट आर्म स्पिनर ने कहा है कि उनक लक्ष्य विकेट टू विकेट गेंदबाजी करना था और वो अपने प्रदर्शन से खुश हैं। Also Read - इंग्लैंड में आईपीएल टूर्नामेंट की मेजबानी करना चाहते हैं लंदन के मेयर सादिक खान

अक्षर ने मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जा रहे डे-नाइट टेस्ट मैच के पहले दिन 38 रन देकर छह विकेट चटकाए। अक्षर ने लगातार दूसरी बार टेस्ट में पांच या उससे ज्यादा विकेट लिए हैं। अक्षर की इस शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने इंग्लैंड की पहली पारी 112 पर ढेर कर दिया। Also Read - IPL 2021: DC के कोच रिकी पॉन्टिंग ने चुने 7 खिलाड़ी जो 14वें सीजन में कर सकते हैं कमाल

दिन का खेल खत्म होने के बाद अक्षर ने कहा, “जब चीजें आपके पक्ष में हो रही हों तो इसे भुनाने की जरूरत होती है। मेरा उद्देश्य गेंद को विकेट टू विकेट रखना और विकेट से मिलने वाली मदद का इस्तेमाल करना था। चेन्नई में गेंद बॉल स्किडिंग नहीं हो रही थी। लेकिन यहां यह हो रही है। 85-90 किमी की गति एक अच्छी गति है। बहुत सारे टी 20 क्रिकेट के होने से इसका टेस्ट पर प्रभाव पड़ता है और साथ ही बल्लेबाज अधिक आक्रामक होते हैं।” Also Read - हमें शुरुआती 8-9 मैच दिल्‍ली-चेन्‍नई में खेलने हैं, यहां की पिचें हमें रास नहीं आती: डेविड वार्नर

भारत ने इस डे-नाइट टेस्ट मैच में इंग्लैंड को उसकी पहली पारी में 112 रन पर ढेर करने के बाद दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में तीन विकेट पर 99 रन बना लिए हैं और भारत अब इंग्लैंड के स्कोर से मात्र 13 रन ही पीछे है, जबकि उसके सात विकेट बाकी हैं।

अक्षर ने कहा, “अगर बल्लेबाज अच्छा डिफेंड कर रहा है, तो आप अपने दिमाग में बैकफुट पर जाते हैं। लेकिन अगर वो अच्छी तरह से डिफेंड नहीं कर पा रहा है और स्वीप और रिवर्स-स्वीप के लिए जा रहा है तो आपको लगता है कि एक मौका बनने जा रहा है।”