चेन्नई टेस्ट में इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) शानदार अंदाज में दिख रहे हैं. अपना 100वां टेस्ट खेल रहे रूट ने इस दौरे पर शतक से शुरुआत की है. वह 160 से ज्यादा रन बनाकर बेहतरीन अंदाज में दिख रहे हैं. उनके साथ बेन स्टोक्स (Ben Stokes) भी बेहतरीन लय में दिख रहे हैं. लेकिन भारतीय टीम अब रूट के शतक से चिंतित जरूर होगी. क्योंकि रूट ने भारत के खिलाफ अब तक जब भी शतक जमाया है, उनके शतक से इंग्लैंड को कभी हार का मुंह नहीं देखना पड़ा है.Also Read - ICC Test Rankings: पहली बार टॉप-5 में Shaheen Afridi, जानिए किस स्थान पर Shreyas Iyer?

रूट के टेस्ट करियर का यह 20वां शतक है और इस साल का उनका यह तीसरा शतक है, जबकि वह अभी साल का तीसरा ही टेस्ट मैच खेल रहे हैं. भारत के खिलाफ उनके कुल शतक की बात करें तो इंग्लिश कप्तान ने यह अपना 5वां शतक भारत के खिलाफ जड़ा है. अब विराट कोहली और उनकी टीम को रूट के शतक के साथ जुड़े एक खास रिकॉर्ड से भी सावधान रहना होगा. Also Read - AUS vs NZ: नस्‍लवाद के गंभीर आरोपों पर Joe Root की सफाई, एशेज के बाद करेंगे Azeem Rafiq से मुलाकात

भारत के खिलाफ रूट ने जब भी टेस्ट मैच में शतकीय पारी खेली हैं, उस मैच में टीम इंडिया के हिस्से जीत नहीं आई है. सीरीज में बढ़त बनाने और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के फाइनल में पहुंचने के लिहाज से भारत चेन्नई में इस मिथक को जरूर तोड़ना चाहेगा. Also Read - Ashes 2021-22: बारिश से धुला इंग्लैंड का अभ्यास मैच; स्टोक्स की वापसी के लिए करना होगा इंतजार

रूट का भारत के खिलाफ शतक लगाने और उस मैच में इंग्लैंड के अजेय रहने का सिलसिला जुलाई, 2014 में शुरू हुआ था. तब रूट ने नाबाद 154 की पारी खेली थी और ये मैच ड्रॉ रहा था. अगस्त, 2014 में ओवल में खेले गए टेस्ट में रूट ने नाबाद 149 रनों की दमदार पारी खेली और इंग्लैंड को पारी और 244 रनों की बड़ी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई. रूट ने भारत के खिलाफ तीसरा शतक (124 रन ) राजकोट के मैदान पर नवंबर, 2016 में जड़ा था और ये मैच भी ड्रॉ रहा था.

इसके बाद इस खिलाड़ी ने भारत के खिलाफ अपना चौथा शतक साल 2018 में द ओवल मैदान पर लगाया. इस मैच में इंग्लैंड को 118 रनों से जीत मिली थी. ऐसे में भारतीय टीम इस आंकड़े को पलटना जरूर चाहेगी. फिलहाल रूट की निगाहें अपने दोहरे शतक पर हैं. हाल ही में वह गॉल में भी दोहरा शतक जमाकर आए हैं और इसके बाद उन्होंने 186 रन की पारी खेली थी.

इनपुट : IANS