ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अपनी बेहतरीन कप्तानी के दम पर भारत को टेस्ट सीरीज में जीत दिलाने वाले कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने सभी का दिल जीत लिया है. अपनी कमजोर टीम के साथ ऑस्ट्रेलिया पर जीत के बाद भारतीय क्रिकेट में यह मांग भी उठने लगी है रहाणे को टेस्ट टीम की कमान सौंप देनी चाहिए और कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को सिर्फ अपनी बल्लेबाजी पर फोकस करना चाहिए, ताकि वह लंबे समय तक भारत के लिए खेल सकें. लेकिन रहाणे ने साफ कर दिया है कि उनकी टीम के कप्तान विराट कोहली हैं और जरूरत पड़ने पर ही वह कप्तानी करके खुश हैं.Also Read - Shaheen Afridi के लिए T20 WC में भारत के खिलाफ प्रदर्शन है सबसे यादगार, रोहित का विकेट सबसे अहम

भारत का अगला पड़ाव इंग्लैंड के खिलाफ 4 टेस्ट की घरेलू सीरीज है, जो 5 फरवरी से चेन्नई में शुरू होगी. इस सीरीज में रहाणे एक बार फिर टीम में उपकप्तान की भूमिका में नजर आएंगे. अब ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद एक बार फिर उपकप्तानी संभालते हुए उनके लिए क्या अलग होगा? यह पूछने पर रहाणे ने कहा, ‘कुछ भी नहीं. विराट टेस्ट टीम के कप्तान थे और रहेंगे. मैं उपकप्तान हूं. उनके नहीं होने पर मुझे कप्तानी दी गई थी और मेरा काम टीम इंडिया की कामयाबी के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना था.’ Also Read - 'मुझे नहीं लगता निकट भविष्‍य में भुवनेश्‍वर कुमार को वनडे-टी20 में मौका मिलेगा'

रहाणे ने कहा, ‘सिर्फ कप्तान बनना ही जरूरी नहीं है. कप्तान की भूमिका आप कैसे निभाते हैं, वह ज्यादा अहम है. अभी तक मैं सफल रहा हूं और उम्मीद है कि भविष्य में भी अच्छे नतीजे दे सकूंगा.’ Also Read - KL Rahul को नहीं नसीब हुई एक भी जीत, भारत का कप्‍तान बनने के सपने पर लगा बड़ा डेंट

रहाणे की कप्तानी का रिकॉर्ड शानदार रहा है. उनकी कप्तानी में भारत ने 5 टेस्ट मैच खेले हैं और इनमें से टीम इंडिया ने 4 बार जीत दर्ज की है. रहाणे की कप्तानी में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 बार हराया है, जबकि एक मैच ड्रॉ रहा है. इतना ही नहीं उनकी कप्तानी में भारत को कभी हार का मुंह नहीं देखना पड़ा है.

कोहली से अपने संबंध के बारे में उन्होंने कहा, ‘मेरा और विराट का तालमेल हमेशा अच्छा रहा है. उन्होंने समय-समय पर मेरी बल्लेबाजी की तारीफ की है. हमने टीम के लिए भारत में और विदेश में कई यादगार पारियां खेली हैं. वह चौथे नंबर पर उतरते हैं और मैं 5वें पर , इसलिए हमारी कई साझेदारियां बनी हैं.’

बतौर कप्तान कोहली के बारे में उनकी राय पूछने पर इस उपकप्तान ने कहा, ‘वह काफी चतुर कप्तान हैं. वह मैदान पर अच्छे फैसले लेते हैं. स्पिनरों के गेंदबाजी करने पर वह मेरे फैसले पर काफी भरोसा करते हैं. उसका मानना है कि अश्विन और जडेजा की गेंदों पर स्लिप में कैच पकड़ना मेरी खूबियों में से है.’

इनपुट: भाषा