भारतीय टीम के मुख्‍य कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) का मानना है कि न्‍यूजीलैंड के खिलाफ (India vs New Zealand) आगामी टेस्‍ट सीरीज के दौरान टीम पर बीती वनडे सीरीज में हार का असर नहीं पड़ेगा. विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्‍तानी वाली टीम इंडिया इस फॉर्मेट की चैंपियन टीम की तरह ही मैदान में उतरेगी.

वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप (ICC Test Championship) में अबतक अपने सभी सात मुकाबले जीतकर भारत अंकतालिका में टॉप पर बना हुआ है. रवि शास्‍त्री ने कहा, “लॉर्ड्स में अगले साल होने वाले टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले की दौड़ में बने रहने के लिए भारत को 100 अंक चाहिए. हमें इस साल विदेशी धरती पर छह टेस्‍ट मैच खेलने हैं. दो मैच न्‍यूजीलैंड और चार मुकाबले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जाएंगे. आगामी छह मैचों में से विदेशों में दो जीत भारत को फाइनल की दौड़ में बनाए रखेगी.”

पढ़ें:- शोएब मलिक ने रिटायरमेंट को लेकर दी अहम जानकारी, ‘टी20 विश्‍व कप से पहले करूंगा आंकलन’

रवि शास्‍त्री ने कहा, हमारा एक ही लक्ष्‍य है. इन दोनों सीरीज के दौरान हमें नंबर-1 टेस्‍ट टीम की तरह खेलना है. टेस्‍ट क्रिकेट में हमारी टीम विदेशों में अच्‍छा प्रदर्शन करने की क्षमता रखती है.

रोहित शर्मा की गैर मौजूदगी में मयंक अग्रवाल के साथ दूसरा सलामी बल्‍लेबाज कौन होगा इसपर शास्‍त्री ने कहा, “पृथ्‍वी शॉ और शुबमन गिल दोनों ही अच्‍छे खिलाड़ी हैं. दोनों में से जिसे भी मौका मिले, लेकिन सच्‍चाई यही है कि दोनों भारतीय स्‍क्‍वाड का हिस्‍सा हैं.”