हैमिल्‍टन टी20 (Hamilton T20I) में मैच टाई होने के बाद भारत ने न्‍यूजीलैंड  (India vs New Zealand) से सुपर ओवर (Super Over) में बेहद रोमांचक जीत दर्ज की. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने सुपर ओवर की आखिरी दो गेंद पर छक्‍के लगाकर भारत को जीत दिलाई. मैच के बाद भारतीय कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि उन्‍हें एक वक्‍त ऐसा लगा कि मैच हाथ से फिसल चुका है. Also Read - WATCH: सर्जरी के बाद मैदान पर लौटे रवींद्र जडेजा; इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में कर सकते हैं वापसी

पढ़ें:- रोमांचक जीत के बाद रोहित शर्मा का बड़ा बयान, ‘मैंने इससे पहले कभी नहीं की….’ Also Read - Top 10 Most followed Person on instagram: इंस्टाग्राम पर 10 सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले व्यक्ति, विराट कोहली हैं कोसों पीछे

रोहित शर्मा की 40 गेंद पर 65 रन की पारी के दम पर भारत ने मैच में 179/5 रन बनाए. लक्ष्‍य का पीछा करने के दौरान केन विलियसमन ने 48 गेंद पर 95 रन की पारी खेली. आखिरी दो ओवरों में न्‍यूजीलैंड को जीत के लिए 20 रन चाहिए थे, जबकि आखिरी ओवर में मेजबान टीम को नौ रन की दरकार थी. जीत के काफी करीब पहुंचने के बावजूद भी केन विलियसमन की कप्‍तानी वाली टीम को पराजय झेलनी पड़ी. Also Read - इंस्टाग्राम पर 100 मिलियन हुई Virat Kohli के चाहने वालों की तादाद, पहले भारतीय

विराट कोहली ने मैच के बाद कहा, “एक समय तो मुझे लगा कि हम हार गए. जिस तरह से केन विलियसमन ने बल्लेबाजी की और 95 रन बनाए वो शानदार है. उनके लिए बुरा लगा क्योंकि मैं जानता हूं कि जब समय आपके खिलाफ हो और आप ऐसी पारी खेलो तो कैसा महसूस होता है.”

आखिरी गेंद पर न्यूजीलैंड को जीत के लिए एक गेंद पर एक रन चाहिए था लेकिन मोहम्मद शमी ने रॉस टेलर की गिल्लियां बिखेर दी थीं.

पढ़ें:- IND vs NZ: सुपर ओवर के हाई वोल्‍टेज ड्रामा के बाद जीता भारत, सीरीज पर 3-0 से कब्‍जा

विराट कोहली ने इसपर कहा, “आखिरी गेंद पर हमारी चर्चा हुई थी कि हमें स्टम्प्स को ही निशाना बनाना है. क्योंकि अगर ऐसा नहीं हुआ तो एक रन तो बनता ही.”

कप्‍तान ने रोहित के बारे में कहा, “दोनों पारियों में रोहित ने शानदार प्रदर्शन किया, खासकर आखिरी दो गेंदों पर. हमें पता था कि अगर वह एक हिट लगा देंगे तो गेंदबाज दबाव में आ जाएगा.”

कोहली ने कहा है कि उनकी टीम की कोशिश इस सीरीज को 5-0 से जीतने की है. “हम बाकी के बचे दोनों मैच जीतना चाहेंगे लेकिन साथ ही यह जरूरी है कि हम दूसरे खिलाड़ियों को भी समय दें.”