नई दिल्ली: विश्वकप (ICC Cricket World Cup) के मुकाबले रोमांचक दौर में पहुंच गए हैं. अफगानिस्तान और दक्षिण अफ्रीका के सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो जाने के बाद बाकी बची टीमों के बीच अंतिम चार में पहुंचने की जंग और कड़ी हो गई है. टॉप-4 के लिए एक ऐसा भी समीकरण बनने लगा है, जो विश्व कप के अब तक के इतिहास में नहीं हुआ है. अब तक के मुकाबलों के बाद भारत और पाकिस्तान (India vs Pakistan) दोनों ही सेमीफाइनल की रेस में बने हुए हैं. अगर सबकुछ ठीक रहा तो ये दोनों टीमें एक बार फिर आमने-सामने हो सकती हैं. अगर ऐसा हुआ तो यह पहला मौका होगा, जब भारत (Team India) और पाकिस्तान की टीमें एक ही विश्व कप में दो बार भिड़ेंगी.

भारत और पाकिस्तान (Pakistan) के संभावित मुकाबले का गणित समझने के लिए हमें पहले सेमीफाइनल की रेस समझनी होगी. इसके लिए पहले विश्व कप के प्वाइंट टेबल का हाल जान लें. फिलहाल न्यूजीलैंड (11) पहले, ऑस्ट्रेलिया (10) दूसरे, भारत (9) तीसरे और इंग्लैंड (8) चौथे नंबर पर हैं. बांग्लादेश (7) पांचवें, श्रीलंका (6) छठे और पाकिस्तान (5) सातवें और वेस्टइंडीज (3) आठवें नंबर पर हैं. यही आठ टीमें सेमीफाइनल की रेस में हैं. दक्षिण अफ्रीका (3) और अफगानिस्तान (0) खिताबी रेस से बाहर हैं.

फिलहाल स्थिति यह है कि न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और भारत का सेमीफाइनल खेलना तय लग रहा है. चौथे पोजीशन के लिए पांच टीमों (इंग्लैंड, बांग्लादेश, श्रीलंका, पाकिस्तान और विंडीज) में मुकाबला है. बहरहाल, हम यहां यह समझने की कोशिश करते हैं कि क्या पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंच सकता है और क्या ऐसा होने पर उसका मुकाबला भारत से संभव है.

पाकिस्तान और न्यूजीलैंड का मैच अहम
पाकिस्तान अपने छह मैचों में दो जीत के साथ पांचवें नंबर पर है. उसे अब न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से खेलना है. अगर वह न्यूजीलैंड को हराता है तो उसके 11 अंक हो जाएंगे. ऐसे में अगर इंग्लैंड अपने दो मैच और बांग्लादेश व श्रीलंका एक-एक मैच हार जाएं तो पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंच जाएगा.

पहले स्थान के लिए भारत-न्यूजीलैंड में मुकाबला
11 अंक होने पर पूरी संभावना यह रहेगी कि पाकिस्तान प्वाइंट टेबल में चौथे स्थान में रहे. दूसरी ओर पहले पोजीशन की लड़ाई में भारत और न्यूजीलैंड के बीच मुकाबला दिख रहा है. ये दोनों ही टीमें अभी एक भी मैच नहीं हारी हैं. ऐसे में अगर भारत लीग राउंड पूरा होने के बाद पहले स्थान पर रहता है तो उसका मुकाबला प्वाइंट टेबल पर मौजूद चौथी टीम से होगा. जबकि, दूसरे सेमीफाइनल में दूसरे और तीसरे नंबर की टीमें भिड़ेंगी.

भारत क्यों है नंबर-1 का दावेदार
भारत को अभी विंडीज, इंग्लैंड, बांग्लादेश और श्रीलंका से खेलना है. यानी इंग्लैंड को छोड़ दें तो बाकी तीनों मैच में वह जीत का तगड़ा दावेदार है. अगर वह चारों मैच जीता तो उसके कुल 17 अंक रहेंगे. दूसरी ओर न्यूजीलैंड को पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड से भिड़ना है. उसके ये तीनों ही मुकाबले मुश्किल हैं. वैसे भी अगर वह पाकिस्तान से हार गया तो उसके अधिकतम 15 अंक ही हो पाएंगे. ऐसे में वह दूसरे या तीसरे स्थान पर रह जाएगा.