सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की 154 रन की शानदार साझेदारी के दम पर टीम इंडिया (Team India) ने वाइजैग टेस्ट में टी ब्रेक तक एक विकेट के नुकसान पर 175 रन का स्कोर बनाया। दूसरे सेशन में भारत ने बिना कोई विकेट खोए 140 रन जोड़े और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 246 रन की विशाल बढ़त हासिल की।

पहले सेशन में मयंक अग्रवाल का विकेट खोने के बाद रोहित और पुजारा ने दूसरे सेशन में शतकीय साझेदारी बनाई। रोहित तो अपने चिर-परिचित अंदाज में बल्लेबाजी कर ही रहे थे लेकिन ड्रेसिंग रूम से संदेश मिलने के बाद पुजारा ने भी रनों की रफ्तार बढ़ाई।

टी तक रोहित ने 118 गेंदो पर सात चौकों और 4 छक्कों की मदद से 84 रन बना लिए हैं। वहीं पुजारा 139 गेंदो पर 75 रन पर नाबाद हैं। दोनों ही बल्लेबाज शतक के करीब हैं।

‘हमें अपने देश में इस तरह की गर्मी में खेलने का अनुभव नहीं है’

रोहित अगर शतक पूरा कर लेते हैं तो एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक लगाने वाले भारतीय सलामी बल्लेबाजों की सूची में शामिल होकर पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर जैसे दिग्गज की बराबरी कर लेंगे।