युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) विश्व कप के बाद से ही अपने फॉर्म और शॉट सेलेक्शन को लेकर सवालों में घिरे हुए हैं. पंत ने एक बार फिर ये साबित कर दिया कि उनकी बल्लेबाजी में संयम और सब्र की कमी है. साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला. पंत ने एक और सुनहरे अवसर को बर्बाद करते हुए पांच गेंदों में चार रन बनाए. पंत के इस प्रदर्शन से नाराज क्रिकेट प्रेमियों ने उन्हें सोशल मीडिया पर खूब लताड़ा. कुछ ने ‘ब्रिंग बैक धोनी’ का भी नारा लगाया. टी-20 फॉर्मेट में पंत टीम की एक मजबूत कड़ी माने जाते हैं. हाल ही में टीम इंडिया के नए बैटिंग कोच विक्रम राठौर ने भी पंत के साथ-साथ सभी युवा खिलाड़ियों को ‘बेपरवाह खेल’ और ‘लापरवाह खेल’ के बीच अंतर समझने को कहा था.

पंत के खराब फॉर्म में होने के बावजूद भारतीय कप्तान ने अपनी मास्टरक्लास पारी से टीम को आसानी से जीत दिला दी. साउथ अफ्रीका के खिलाफ चल रही इस श्रृंखला में भारत अब 1-0 से आगे है. कप्तान कोहली ने 52 गेंदों पर शानदार नाबाद 72 रन बनाए. उनकी इस पारी में तीन छक्के और चार चौके शामिल थे. ‘मैन ऑफ द मैच’ रहे कोहली ने कहा, ” ये जीत हमारे लिए सकारात्मक संकेत है. मेरी शर्ट में जो ‘इंडिया’ का बैज लगा है वो हमे प्रेरित करने के लिए काफी है. अपने देश के लिए खेलना गर्व की बात होती है. अपनी टीम को जीताने के लिए मैं हर कोशिश करूंगा’.

टीम इंडिया के नए बैटिंग कोच ने लगाई युवा खिलाड़ियों की ‘क्लास’, कहा- बेपरवाह खेल और लापरवाह खेल के बीच अंतर समझें