दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज एनरिच नोर्त्जे को मलाल है कि तीसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन भारत का स्कोर तीन विकेट पर 39 रन करने बाद उनकी टीम ने मेजबान टीम को वापसी करने दी.

रोहित शर्मा से पारी का आगाज कराना बहुत अच्छा फैसला : विक्रम राठौड़

सीरीज में क्लीनस्वीप से बचने की कवायद में जुटे दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों ने तीन विकेट जल्दी चटकाकर अच्छी शुरुआत की लेकिन रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे ने 185 रन की अटूट साझेदारी करके 58 ओवर में भारत का स्कोर तीन विकेट पर 224 रन तक पहुंचा दिया. इसके बाद खराब मौसम के कारण दिन का खेल रोकना पड़ा.

नोर्त्जे ने पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा,‘पिछले टेस्ट की तरह हमने निश्चित तौर पर बेहतर प्रदर्शन किया. हमने बस थोड़े बेहतर तरीके से मैच को नियंत्रित करने की कोशिश की. दुर्भाग्य से हम एक और विकेट हासिल नहीं कर पाए. उनके चार विकेट हासिल करना अच्छा रहता.’

उन्होंने कहा, ‘एक या दो ओवर में हम हावी थे, बाद हमें हमने दोबारा वापसी की. शायद बीच में हम राह भटक गए लेकिन कुल मिलाकर सभी ने काफी अच्छा प्रयास किया.’

‘भारतीय क्रिकेट ने BCCI में जीत दर्ज कर ली है’

नोर्त्जे ने कहा, ‘कुल मिलाकर गेंदबाजों का प्रयास काफी अच्छा रहा. सुबह थोड़ी मदद मिल रही थी, इसका अधिक से अधिक फायदा उठाने का प्रयास किया लेकिन एक या दो ओवर हमारे पक्ष में नहीं रहे.’

कोहली को आउट करना अविश्वसनीय

कगीसो रबाडा ने 14 ओवर में 54 रन देकर दो विकेट चटकाए जबकि नोर्त्जे ने भारतीय कप्तान विराट कोहली को पवेलियन भेजा.

नोर्त्जे ने कहा, ‘मैं विकेट की उम्मीद कर रहा था और उन्हें आउट करना अविश्वसनीय था लेकिन सब योजना को लागू करने का प्रयास किया. मैंने जितना अधिक संभव हो उतना दबाव डालने की कोशिश की और अंतत: विकेट मिला.’

रबाडा के प्रयास पर उन्होंने कहा, ‘उसने काफी अच्छी गेंदबाजी की. मुझे लगता है कि लुंगी एंगिडी ने उसका अच्छा साथ दिया. शुरुआती साझेदारी अच्छी थी इसलिए उन्हें पूरा श्रेय जाता है.’

नोर्त्जे इस बात से भी सहमत नहीं हैं कि उनके गेंदबाजों को एसजी गेंद से गेंदबाजी करने में परेशानी हो रही है.