भारत के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने रोहित शर्मा की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चल रही सीरीज में टेस्ट सलामी बल्लेबाज के तौर पर सफलता का श्रेय उनकी मन: स्थिति को दिया.

‘भारतीय क्रिकेट ने BCCI में जीत दर्ज कर ली है’

रोहित ने शानदार लय जारी रखते हुए शनिवार को सीरीज में तीसरा शतक जड़ा जिससे भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे और अंतिम मैच के शुरूआती दिन खराब शुरूआत के बावजूद तीन विकेट पर 224 रन बना लिए.

राठौड़ ने पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा, ‘वह बहुत अनुभवी खिलाड़ी हैं. मुझे नहीं लगता कि आपको उनकी तकनीक में कुछ बदलाव करने की जरूरत है. सिर्फ एकमात्र तालमेल, मेरे ख्याल से उन्हें सिर्फ खेल की योजना बनाना था.’

रोहित अभी 117 रन बनाकर खेल रहे हैं और अजिंक्य रहाणे (नाबाद 83) के साथ नाबाद 185 रन की भागीदारी निभा चुके हैं.

राठौड़ ने कहा, ‘मेरा हमेशा मानना है कि वह किसी भी प्रारूप के लिए बहुत बढ़िया खिलाड़ी हैं. उनसे पारी का आगाज कराना बहुत अच्छा फैसला था. उस जैसा अनुभवी खिलाड़ी अगर शीर्ष क्रम में खेलता है तो इससे भारतीय टीम में सब कुछ बदल जाएगा, यहां तक कि जब आप दौरे पर होंगे तब भी.’

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ झटकों से उबरना शानदार रहा

भारत ने 39 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे जो भारत की सीरीज में सबसे खराब शुरूआत थी.

इसके बारे में बात करते हुए राठौड़ ने कहा, ‘शुरू में थोड़ी सी नमी थी और विकेट से मदद मिल रही थी. उन्होंने भी सही लाइन एवं लेंथ में गेंदबाजी की लेकिन हमारा इन झटकों से उबरना शानदार रहा. दोनों ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की और लंच के बाद विकेट थोड़ा आसान हो गया.’

ऑस्ट्रेलियाई दौरे से पहले वकार यूनिस ने पाक गेंदबाजों का लगाया विशेष कैंप

रोहित जब सात रन पर थे तो उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट दिया गया था लेकिन रिव्यू के बाद वह बच गए.

राठौड़ ने कहा, ‘टेस्ट में आपको इस तरह के कठिन स्पैल खेलने होते हैं. मुझे लगता है कि वह इस सीरीज में अच्छा कर रहे हैं. एक बार वह जम जाता हैं तो वह शानदार खिलाड़ी हैं और हम सभी जानते हैं कि वह गेंदबाजों को रौंद सकते हैं.’