सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Shrma) और उप कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की 267 रन की धमाकेदार साझेदारी के दम पर भारतीय टीम ने रांची टेस्ट के दूसरे दिन लंच तक चार विकेट के नुकसान पर 357 रन का स्कोर खड़ा किया है। पहला सेशन खत्म होने के बाद रोहित 199 रन पर नाबाद हैं और टेस्ट में पहले दोहरे शतक से केवल एक कदम दूर हैं।

बारिश के प्रभावित पहले दिन के स्कोर 224/3 से आगे खेलते हुए रोहित और रहाणे ने दूसरे दिन भी शानदार बल्लेबाजी की। दिन के खेल की शुरुआत कगीसो रबाडा (Kagiso Rabada) और एनरिक नॉर्टजे (Anrich Nortje) ने की जो ज्यादा देर तक इन दो बल्लेबाजों को खामोश नहीं रख पाए। रोहित और रहाणे ने लगभग हर ओवर में एक बाउंड्री लगाई और 64 ओवर तक 200 रन की साझेदारी पूरी कर ली।

69वें ओवर में रहाणे ने तीन साल के बाद भारतीय सरजमीं पर टेस्ट शतक लगाया। 11वां टेस्ट शतक लगाने के बाद रहाणे ने आक्रामक होकर बल्लेबाजी की। जिसके बाद प्रोटियाज गेंदबाजों की लाइन-लेंथ बिगड़ गई। इस बीच विपक्षी टीम ने कुछ मौकें भी गंवाए। 73वें ओवर में हैनरिक क्लासें रहाणे को स्टंप आउट करने से चूके।

‘सरफराज अहमद के पास सम्मान के साथ कप्तान पद छोड़ने का मौका था’

दक्षिण अफ्रीका के दिन की पहली सफलता 76वें ओवर में मिली जब जॉर्ज लिंडे की गेंद पर रहाणे विकेटकीपर क्लासें के हाथों कैच आउट हुए। रहाणे 192 गेंदो पर 115 रनों की शानदार पारी खेलकर पवेलियन लौटे।

रहाणे के आउट होने के बाद रनों की गति थोड़ी कम जरूर हुई लेकिन रोहित ने एक छोर से चौके लगाना जारी रखा। 81 ओवर के बाद फाफ डु प्लेसिस ने दूसरी नई गेंद ले ली जिसके बाद रबाडा-रोहित के बीच एक अच्छा मुकाबला देखने को मिला।

84वें ओवर में नॉर्टजे के खिलाफ लगातार दो चौके लगाकर रोहित 196 के स्कोर पर पहुंचे। लंच से पहले आखिरी ओवर में तीन रन बनाकर रोहित 199 पर नाबाद हैं। वहीं रवींद्र जडेजा 15 रन बनाकर उनका साथ दे रहे हैं।