पुणे टेस्‍ट के दूसरे दिन भारतीय कप्‍तान विराट कोहली 202* (299) ने दोहरा शतक जड़ा. कोहली ने इस दोहरे शतक के साथ ही दिग्‍गज सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग का बड़ा रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

पढ़ें:- विराट ने तोड़ा दिलीप वेंगसरकर का रिकॉर्ड, अब इस दिग्‍गज की है बारी

सचिन और सहवाग ने अपने टेस्‍ट करियर के दौरान कुल छह दोहरे शतक जड़े थे. पुणे टेस्‍ट से पहले तक विराट के नाम  खेल के सबसे लंबे प्रारूप में छह दोहरे शतक थे. विराट के पास अब कुल सात दोहरे शतक हो गए हैं. वीरेंद्र सहवाग टेस्‍ट क्रिकेट में दो तिहरे शतक भी बना चुके हैं. इस मामले में विराट और सचिन उनसे पीछे हैं.

दूसरे दिन लंच तक विराट कोहली 104 रन बनाकर खेल रहे थे, लेकिन दूसरे सेशन में उन्‍होंने रन बनाने की गति को तेज कर दिया. विराट ने लंच के बाद चाय काल तक 90 रन जोड़े. चाय कल तक विराट का स्‍कोर 194 रन था. फैन्‍स को विराट के सातवें दोहरे शतक के लिए आखिरी सेशन का इंतजार करना पड़ा.

टेस्‍ट क्रिकेट में 7 हजार रन किए पूरे 

विराट ने दोहरे शतक के साथ टेस्‍ट करियर में अपने 7000 टेस्ट रन भी पूरे कर लिए. कोहली के अलावा सचिन तेंदुलकर (15921), राहुल द्रविड़ (13265), सुनील गावस्कर (10122), वीवीएस लक्ष्मण (8781), वीरेंद्र सहवाग (8503) और सौरव गांगुली (7212) ने सात हजार से अधिक रन बनाए हैं.

पढ़ें:- विराट कोहली ने रिकी पोंटिंग के बतौर कप्तान 19 टेस्ट शतकों की बराबरी की

तोड़ा वेंगसरकर का रिकॉर्ड

अपनी इसी पारी के दौरान कोहली ने भारत के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक दिलीप वेंगसरकर (6868) को पीछे छोड़ा. वो गांगुली का रिकॉर्ड तोड़ने के बेहद करीब पहुंच गए हैं।

40 शतक लगाने वाले पहले भारतीय कप्‍तान

यही नहीं, कोहली ने अपना शतक पूरा करते ही एक और कीर्तिमान अपने नाम किया. वह 40 अंतर्राष्ट्रीय शतक लगाने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान बन गए हैं.