बेंगलुरू: भारतीय सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने शनिवार को कहा कि वह आगामी विजय हजारे ट्राफी में अपनी राज्य की टीम दिल्ली की ओर से खेलेंगे. धवन इस समय दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मौजूदा टी-20 श्रृंखला के लिये राष्ट्रीय टीम के साथ हैं, उन्होंने पुष्टि की कि वह 24 सितंबर से शुरू होने वाली 50 ओवर की घरेलू प्रतियोगिता में खेलेंगे. धवन ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘अब इस श्रृंखला के बाद मैं विजय हजारे ट्राफी में भी खेलूंगा. मैं इसके लिये तैयार हूं. मैं सुनिश्चित करूंगा कि मैं जो भी क्रिकेट खेलूं, उसमें मैं अपना सर्वश्रेष्ठ करूं, भले ही यह रणजी हो, विजय हजारे ट्राफी हो या फिर भारतीय टीम हो. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘क्योंकि मैं टेस्ट टीम में नहीं था तो मेरे पास काफी समय था इसलिये मैंने सोचा कि घर पर बैठने या ट्रेनिंग के बजाय मैं मैचों में खेलूं जो मेरे आत्मविश्वास को बढ़ाने और कौशल स्तर के लिये भी अच्छा होगा. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैच अभ्यास बेहतरीन अभ्यास है इसलिए  मैंने सोचा कि यह मेरे लिये खुद को व्यक्त करने का अच्छा मौका है. मैं टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं था तो मेरे पास मौका था.’’

शिखर धवन 

पहले ऐसी रिपोर्ट आ रही थी कि धवन ने घरेलू टूर्नामेंट के शुरू के कुछ मैचों से हटने का फैसला किया है. डीडीसीए ने बुधवार को टूर्नामेंट के लिए टीम की घोषणा की थी जिसमें ध्रुव शोरे को कप्तान चुना गया जबकि ऋषभ पंत और नवदीप सैनी को भी टीम में चुना गया है.

इसी बीच धवन ने आखिरी टी-20 मैच से पहले शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा, “ऋषभ पंत और या श्रेयस अय्यर जैसे बल्लेबाज जब बल्लेबाजी करने आते हैं तो हम यह सुनिश्चित करते हैं कि हम उनसे बातचीत करें और यह सुनिश्चित करते हैं कि वे सहज रहें और नर्वस ना हो. हम यह भी देखते हैं कि उस समय उनके लिए किस चीज की जरूरत है.” धवन ने साथ ही कहा कि टीम के सीनियर खिलाड़ी रणनीतियों को लेकर चर्चा करते हैं और उनके साथ बातचीत करते हैं.

उन्होंने कहा, “यही चीज मैं भी करता हूं जब मैं रोहित या कोहली के साथ बल्लेबाजी कर रहा होता हूं तो. हम बातचीत करना जारी रखते हैं जोकि काफी महत्वपूर्ण है. अगर कोई भी युवा खिलाड़ी किसी भी समय हमसे कुछ बातचीत करना चाहते हैं तो उनके लिए हमेशा तैयार हैं.”