नई दिल्ली: रोहित शर्मा की अगुवाई में भारत की युवा टीम मंगलवार को कोलम्बो में टी-20 सीरीज  का पहला मैच श्रीलंका के खिलाफ खेलेगी. इस सत्र में भारत ने श्रीलंका के खिलाफ अपनी और उसकी सरजमीं पर 18 अंतरराष्ट्रीय (छह टेस्ट, आठ वनडे और चार टी20 ) मैच खेले हैं. बांग्लादेश इस सीरीज में तीसरी टीम है. हालांकि भारत के छह शीर्ष खिलाड़ियों को आराम दिया गया है जिससे युवा खिलाड़ियों के पास खुद को साबित करने का यह अच्छा मौका होगा.

रिषभ पंत, दीपक हुड्डा और मोहम्मद सिराज टीम में शामिल हैं जो अगर इसमें नहीं होते तो अपनी संबंधित आईपीएल टीमों के शिविरों में इस लीग के शुरू होने का इंतजार कर रहे होते. जिन खिलाड़ियों को मैच में खेलने का मौका मिलेगा, उनका लक्ष्य सिर्फ एक ही होगा कि वे इस मौके का पूरा फायदा उठा सकें क्योंकि आईसीसी विश्व कप से पहले उन्हें इतने मौके नहीं मिलेंगे. ज्यादातर मौकों पर भारतीय टीम ने श्रीलंका को पस्त किया है और कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा के पास ट्रॉफी घर लाने के कई कारण दिखते हैं. रोहित दक्षिण अफ्रीका दौरे के खराब प्रदर्शन के बाद फॉर्म में वापसी को बेताब होंगे. वह अफ्रीकी दौरे पर एक वनडे में केवल ही सैकड़ा जड़ सके थे.

IPL2018: सबसे ज्यादा शतक जड़ने के मामले में दूसरे नंबर पर हैं कोहली, जानें कौन हैं टॉप पांच खिलाड़ी

प्रेमदासा स्टेडियम में रोहित अपने जोड़ीदार शिखर धवन के साथ शानदार प्रदर्शन करना चाहेंगे. सुरेश रैना फिटनेस और फॉर्म संबंधित मुद्दों के कारण करीब एक साल तक टीम से बाहर रहे, लेकिन वह वापसी के बाद धीरे धीरे तीसरे नंबर के हिसाब से ढल रहे हैं और सूरंगा लकमल, दुष्मंत चामीरा और दासुन शनाका की तेज गेंदबाजी तिकड़ी से उन्हें ज्यादा समस्या नहीं होगी. वहीं प्रतिभाशाली लोकश राहुल को अगर टीम प्रबंधन पारी का आगाज करने के लिये नहीं चुनता है तो रैना की टीम में वापसी से उन्हें चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करनी पड़ सकती है.

मनीष पांडे भी काफी समय से अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं. उन्हें जो भी सीमित मौके दिये गये हैं, उसमें उन्होंने खुद को साबित किया है. दिनेश कार्तिक के पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने और विकेटकीपिंग करने की उम्मीद है जिससे छठे स्थान के लिये द्वंद्व दीपक हुड्डा और रिषभ पंत के बीच होगा.

VIDEO: जिस गेंदबाज की बाउंसर ने ली थी फिल ह्यूज की जान, उसी की गेंद से हुआ बड़ा हादसा

प्रेमदासा में दूधिया रोशनी में विकेट धीरे धीरे धीमा ही होगा, वाशिंगटन सुंदर और युजवेंद्र चहल दो स्पिनर विकल्प हैं. शार्दुल ठाकुर ने दक्षिण अफ्रीका में प्रभावित किया था, उनके जयदेव उनादकट के साथ नयी गेंद से गेंदबाजी करने की उम्मीद है. यह देखना दिलचस्प होगा कि भारत एक अतिरिक्त तेज गेंदबाज या एक ऑल राउंडर रखने का विकल्प चुनता है. अगर टीम एक अतिरिक्त तेज गेंदबाज चुनती है तो मोहम्मद सिराज इसमें शामिल हो सकते हैं या फिर तमिलनाडु के ऑल राउंडर विजय शंकर को जगह मिलेगी. अगर अतिरिक्त स्पिनर की जरूरत होगी तो अक्षर पटेल विकल्प हैं.

टीमें इस प्रकार हैं: 

भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन (उप कप्तान), केएल राहुल, सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), दीपक हुड्डा, वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, विजय शंकर, शार्दुल ठाकुर, जयदेव उनादकट, मोहम्मद सिराज और रिषभ पंत (विकेटकीपर).

श्रीलंका : दिनेश चांदीमल (कप्तान), सूरंगा लकमल (उप कप्तान), उपुल थरंगा, धनुष्का गुणतिलक, कुसाल मेंडिस, दासुन शनाका, कुसाल परेरा, तिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, इसुरू उदाना, अकिला धनंजय, अमिला अपोन्सो, नुआन प्रदीप, दुष्मंत चामिरा, धनंजय डि सिल्वा.

बांग्लादेश : महमूदुल्लाह (कप्तान), लिटन दास, तमिम इकबाल, सौम्य सरकार मुश्फिकर रहीम, सब्बीर रहमान, मुस्तफिजुर रहमान, रूबेल हुसैन, अबु जावेद, तास्किन अहमद, इमरूल कायेस, नुरूल हसन, मेहदी हसन, अरिफुल हक, नजमुल इस्लाम, अबु हिदर रॉनी.