भारत के खिलाफ टी20 सीरीज में हार के बाद वेस्टइंडीज कप्तान कीरोन पोलार्ड (Kieron Pollard) ने बयान दिया है कि वो वनडे सीरीज में बेहतर प्रदर्शन करेंगे। हालांकि पोलार्ड ने ये भी माना कि प्रदर्शन में सुधार की शुरुआत में अनुकूल नतीजे मिलने में देरी लग सकती है। Also Read - किरोन पोलार्ड के इस विशिष्ट क्लब में शामिल हुए ऑलराउंडर शोएब मलिक, T20 क्रिकेट में हासिल की ये बड़ी उपलब्धि

चेन्नई वनडे से पहले विंडीज कप्तान ने कहा, ‘‘हम एक मिशन पर हैं और हमारी रणनीति स्पष्ट है कि 50 ओवर के क्रिकेट में क्या रुख अपनाना है। इसके लिए एक प्रक्रिया है और हम असल में इसी से गुजर रहे हैं। नतीजे शायद तुरंत नहीं दिखाई दें। अफगानिस्तान के खिलाफ हमारी सीरीज अच्छी रही। अब हम बेहतर टीम भारत के खिलाफ खेलने जा रहे हैं।’’ Also Read - SA vs ENG: द. अफ्रीका के सभी खिलाड़ी पाए गए Covid-19 नेगेटिव, अब इस तारीख से होगी वनडे सीरीज

टी20 चैंपियन टीम की वनडे फॉर्मेट में क्या योजना है ये पूछने पर कप्तान ने कहा, ‘‘हमने चर्चा की है कि बीच के ओवरों में कैसे खेलना है, ये बल्लेबाजी में हो या गेंदबाजी में और हम इस फॉर्मेट में कैसे खेलना चाहते हैं। बेशक हम ये खुलासा नहीं कर सकते कि हमारी रणनीति क्या है। खिलाड़ियों को उनकी भूमिका और जिम्मेदारियों की जानकारी है और अब सब इन्हें लागू करने पर निर्भर करता है।’’ Also Read - NZ vs WI: बारिश के कारण तीसरा T20i रद्द, सीरीज कीवियों के नाम

‘रिषभ पंत के पास क्षमता की कमी नहीं, लय में आने पर प्रभावी खिलाड़ी साबित होंगे’

पोलार्ड ने कहा कि रोस्टन चेस के वनडे स्क्वाड में शामिल होने से टीम संतुलित हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘वो (चेस) हमारी टीम में अच्छा संतुलन लेकर आता है। वो टीम के लिए शानदार है, वो ऐसा खिलाड़ी है जो टेस्ट क्रिकेट में मध्यक्रम में खेलता है और उसके नाम पर शतक भी दर्ज है। वो गेंदबाजी भी कर सकता है। उसके टीम में होने से हमें एक अन्य विशेषज्ञ खिलाड़ी को खिलाने का मौका मिलता है। वो हमारे लिए बेशकीमती है। वो हमारे लिए अहम भूमिका निभाएगा।’’

विंडीज ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो (Dwayne Bravo) के टी20 अंतरराष्ट्रीय संन्यास से वापसी करने के बारे में पूछने पर पोलार्ड ने कहा, ‘‘एक कप्तान के रूप में मुझे ये जानकर खुशी है कि ब्रावो की क्षमता का खिलाड़ी चयन के लिए उपलब्ध है।’’