नार्थ साउंड (एंटीगा): भारत के स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने कहा कि वह हमेशा अपने कौशल को निखारने पर फोकस करते हैं और इसमें उन्होंने अब आउंटस्विंग गेंदबाजी को जोड़ा है जिसे करने को लेकर वह पिछले साल तक काफी सहज नहीं थे. वेस्टइंडीज के खिलाफ यहां पहले टेस्ट में छह विकेट चटकाकर बुमराह सबसे कम मैचों में टेस्ट विकेटों का अर्धशतक पूरा करने वाले भारतीय तेज गेंदबाज बने. भारत ने यह टेस्ट रविवार को 318 रन से जीता.

इंग्लैंड में पिछले साल भारत की 1-4 की हार के दौरान गेंदबाजी के संदर्भ में बुमराह ने कहा, ‘पहले मैं इन स्विंग गेंदबाजी करता था लेकिन अधिक टेस्ट मैच खेलने के बाद मुझे आउटस्विंग करने को लेकर अधिक आत्मविश्वास आया, विशेषकर इंग्लैंड दौरे से.’ इस 25 वर्षीय तेज गेंदबाज ने 11 टेस्ट के अपने करियर में 20.63 के औसत से 55 विकेट चटकाए हैं जबकि इस दौरान उनकी इकोनामी दर सिर्फ 2.64 रन प्रति ओवर रही.

बुमराह ने कहा, ‘मैं काफी अच्छा महसूस कर रहा हूं. गेंदबाजी यूनिट के रूप में हम आक्रामक विकल्पों के साथ आए हैं. मैं और इशांत स्विंग हासिल करने के लिए क्रीज की चौड़ाई का भी इस्तेमाल करने का प्रयास कर रहे हैं. मैं अपनी गेंदबाजी में काफी मेहनत कर रहा हूं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं हमेशा खुद को निखारने की कोशिश करता हूं.’

काम के बोझ के प्रबंधन कार्यक्रम के तहत बुमराह को कैरेबियाई दौरे के सीमित ओवरों के चरण से आराम दिया गया था लेकिन बुमराह ने स्वीकार किया कि वह पहले मैच की पहली पारी में लय में नहीं थे. उन्होंने कहा, ‘ब्रेक के बाद वापसी करते हुए पहली पारी में मैं लय में नहीं था लेकिन दूसरी पारी में सब ठीक हो गया.’