नई दिल्ली : दो युवा बल्लेबाजों पृथ्वी शॉ (70) और ऋषभ पंत (नाबाद 85) के अलावा अनुभवी खिलाड़ी उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे (नाबाद 75) की पारियों के दम पर भारत ने यहां राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज पर शिकंजा कसने की तरफ कदम बढ़ा दिए हैं. भारत ने दूसरे दिन शनिवार को पहले सत्र में मेहमान टीम को 311 पर ऑल आउट किया और फिर दिन का खेल खत्म होने तक 81 ओवरों में चार विकेट खोकर 308 रन बना लिए हैं. भारत मेहमान टीम से सिर्फ तीन रन पीछे है. Also Read - Sharad Pawar Comment on Rahul Gandhi: ओबामा के बाद अब राहुल गांधी पर शरद पवार का कमेंट, बोले- राहुल में अभी...

Also Read - देश में फिर लगेगा Lockdown या Covid Vaccine पर होगी चर्चा? PM मोदी की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक आज

वेस्टइंडीज ने दिन की शुरुआत सात विकेट के नुकसान पर 295 रनों के साथ की थी. उमेश यादव ने बाकी के तीन विकेट लेकर विंडीज को पवेलियन भेजा. उमेश ने इस पारी में छह विकेट अपने नाम किए जो उनका टेस्ट की एक पारी में अभी तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. विंडीज की तरफ से रोस्टन चेज ने अपने करियर का चौथा टेस्ट शतक जड़ते हुए 106 रनों की पारी खेली. Also Read - Gold Price Today 3 December 2020: लगातार दूसरे दिन सोने के दाम में उछाल, 481 रुपये की आई बढ़त, जानें आज का ताजा भाव

अच्छे स्कोर का पीछा करने उतरी भारत को अच्छी शुरुआत मिली. अहमदाबाद में पदार्पण टेस्ट में शतक जड़ने वाले पृथ्वी ने अपनी फॉर्म को यहां भी जारी रखा. वेस्टइंडीज के गेंदबाज इस मैच में पृथ्वी के खिलाफ फुल लैंग्थ गेंदबाजी करन की रणनीति के साथ उतरे थे, लेकिन पृथ्वी ने उनकी इस रणनीति पर अपनी तकनीकी श्रेष्ठता दिखाते हुए शानदार ड्राइवर लगाकर तेजी से रन बटोरे.

VIDEO: उमेश यादव की खतरनाक गेंदबाजी में फंसे कैरेबियाई, 6 विकेट हासिल कर तोड़ा सालों पुराना रिकॉर्ड

दूसरे छोर पर हालांकि लोकेश राहुल काफी धीमा खेला और 25 गेंदों में सिर्फ चार रन बनाकर 61 के कुल स्कोर पर आउट हो गए. पहले सत्र में विंडीज के गेंदबाजों का खराब गेंदबाजी का नतीजा भुगतना पड़ा. इस सत्र में मेहमान टीम ने 16 ओवरों में ही 15 अतिरिक्त रन दे दिए थे, लेकिन दूसरे सत्र में विंडीज ने एक तरह से वापसी की और सिर्फ एक अतिरिक्त रन देने के अलावा तीन अहम विकेट लेकर भारत को दबाव में डाल दिया था.

पृथ्वी दिन के दूसरे सत्र में विंडीज की रणनीति में फंस गए. उन्हें जोमेल वारिकेन ने एक्स्ट्रा कवर पर खड़े शिमरोन हेटमायेर के हाथों आउट कराया. उन्होंने अपनी बेहतरीन पारी में महज 53 गेंदों का सामना किया और 11 चौकों के अलावा एक छक्का मारा.

चेतेश्वर पुजारा (10) जल्दी पवेलियन लौट लिए थे. उनके बाद कप्तान विराट कोहली (45) ने रहाणे के साथ 60 रन जोड़े. अर्धशतक की ओर बढ़ रहे कोहली को जेसन होल्डर ने पगबाधा आउट किया. इस परा हालांकि कोहली ने रिव्यू लिया जो विफल रहा.

भारत का स्कोर 162 पर चार विकेट था और टीम संकट में फंसती दिख रही थी, लेकिन रहाणे और पंत ने टीम को न सिर्फ संकट से उबारा बल्कि एक अच्छी बढ़त लेने के मुहाने पर पहुंचा दिया. पंत ने अभी तक अपनी पारी में 120 गेंदें खेली हैं जिन पर 10 पर चौके और दो पर छक्के जड़े हैं. वहीं रहाणे ने 174 गेंदों का सामना किया है और छह चौके लगाए हैं. दोनों के बीच अभी तक 146 रनों की साझेदारी हो चुकी है. भारत को अगर मेहमान टीम पर बड़ी बढ़त चाहिए तो इन दोनों का विकेट पर जमे रहना बेहद जरूरी है.

पृथ्वी शॉ ने अर्धशतक जड़ हासिल की बड़ी उपलब्धि, द्रविड़-गावस्कर के क्लब में हुए शामिल

विंडीज के लिए होल्डर अभी तक दो सफलताएं अर्जित कर चुके हैं जबकि शेनन गेब्रिएल और वारिकेन को एक-एक सफलताएं मिली हैं. इससे पहले, उमेश ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए वेस्टइंडीज को दूसरे दिन अपने स्कोर में ज्यादा इजाफा नहीं करने दिया. मेहमान टीम दूसरे दिन अपने खाते में सिर्फ 16 रन ही जोड़ पाई. तीनों विकेट उमेश यादव ने लिए.

किसी तेज गेंदबाज द्वारा इस मैदान पर किया गया है यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है. उमेश ने दिन के पहले ओवर में ही देवेंद्र बिशू (2) को पवेलियन भेजा. अगले ओवर में रोस्टन चेज (106) ने अपने टेस्ट करियर का चौथा शतक पूरा किया.

उमेश ने ही चेज को बोल्ड कर विंडीज को नौवां झटका दिया. चेज ने अपनी पारी में 189 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौकों के अलावा एक छक्का लगाया. अगली ही गेंद पर उमेश ने शेनन गेब्रिएल को आउट कर विंडीज की पारी को समाप्त कर दिया. विंडीज के लिए चेज के अलावा कप्तान जेसन होल्डर ने 52 रन बनाए. उमेश के अलावा भारत की तरफ से कुलदीप ने तीन और रविचंद्रन अश्विन ने एक विकेट लिया.