नई दिल्ली.  भारत ओर वेस्टइंडीज के बीच 29 अक्टूबर को मुंबई में होने वाले वनडे मुकाबले के आयोजन का मामला सुप्रीम कोर्ट में जा सकता है. मुंबई क्रिकेट संघ (MCA) के सचिव उन्मेष खानविलकर और एक अन्य सदस्य ने बंबई हाई कोर्ट में जाकर वनडे के लिये तदर्थ समिति गठित करने की मांग की थी. हाई कोर्ट ने हालांकि उनसे सुप्रीम कोर्ट के पास जाने के लिये कहा है. Also Read - IPL 2020 के बाद यूएई में ही खेली जाएगी भारत-इंग्लैंड सीरीज

MCA ने BCCI को बताई मुश्किलें Also Read - IPL 2020: स्टेडियम के अंदर नहीं होगी मीडियाकर्मियों की एंट्री, दर्शक भी होंगे नदारद, जानिए पूरी डिटेल

MCA अधिकारियों ने मंगलवार को BCCI के सीनियर अधिकारियों से मुलाकात की थी और उन्हें कुछ मुश्किलों से अवगत कराया था, जिनमें MCA का बैंक खाता संचालित नहीं कर पाना और स्टेडियम के अंदर विज्ञापनों के लिये निविदा जारी नहीं करना भी शामिल था. Also Read - IPL 2020: 6 दिन के बजाए अब सिर्फ 36 घंटे ही क्वारंटीन में रहेंगे ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड के क्रिकेटर्स, जानिए वजह

मुलाकात से मिलेगा हल?

MCA अधिकारी आज फिर से बीसीसीआई के टॉप ऑफिशिएल्स से मुलाकात कर सकते हैं. बता दें कि टेस्ट सीरीज खत्म होने के बाद भारत और वेस्टइंडीज के बीच 5 वनडे मैचों की सीरीज खेली जानी है. इस सीरीज का चौथा वनडे मुंबई में खेला जाना है. लेकिन, मुंबई में मैच का आयोजन कोर्ट कचहरी के चक्कर को लेकर विवादों में आ गया है. अब देखना ये है कि आज होने वाली MCA और BCCI के अधिकारियों की मुलाकात के बाद ये मामला सुलझता है या और उलझता है.