किंग्स्टन: बेहतरीन लाइन एवं लेंथ, रफ्तार और उछाल से वेस्टइंडीज की धज्जियां उड़ाने वाले जसप्रीत बुमराह ने भारतीय कप्तान विराट कोहली से कहा कि यह हैट्रिक उनकी बदौलत मिली. बुमराह द्वारा वेस्टइंडीज के बल्लेबाज को आउट करने के बाद स्टंप माइक में सुना जा सकता था कि कोहली कह रहे थे, ‘कितना बढ़िया गेंदबाज है ये. कितना बढ़िया गेंदबाज है.’

बुमराह ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन वेस्टइंडीज की पहली पारी में हैट्रिक सहित छह विकेट झटक लिए हैं. उनकी हैट्रिक का श्रेय कप्तान कोहली को भी जाता है जिन्होंने रोस्टन चेज का रिव्यू कराया जिन्हें पहले मैदानी अंपायर पॉल रेफेल ने नाट आउट करार दिया था. लेकिन रिव्यू के बाद वह आउट निकले और बुमराह की हैट्रिक का तीसरा शिकार बने.

विराट के ऋणी रहेंगे बुमराह, जैसे मैं सदगोपन रमेश का आभारी हूं: हरभजन सिंह

‘बीसीसीअई टीवी’ पर बातचीत के दौरान कोहली माइक पकड़े थे और बुमराह ने कहा, ‘‘सच कहूं तो मुझे नहीं पता था, मैं इस अपील के बारे में निश्चित नहीं था. मुझे लगा कि यह बल्ला था इसलिये मैंने ज्यादा अपील नहीं की थी लेकिन अंत में यह अच्छा रिव्यू निकला. इसलिये मुझे लगता है कि मुझे यह हैट्रिक कप्तान की बदौलत मिली.’’

बुमराह ने कहा, ‘‘कभी कभार जब विकेट से इतनी मदद मिलती है, जैसा हमने पिछली पारी में भी देखा कि इसमें काफी उछाल था और उन्हें काफी उछाल मिल रहा था. उन्हें मूवमेंट भी मिल रहा था.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसलिये कभी कभार, जब इतनी मदद मिलती है तो आप ललचा जाते हो. आप विकेट के लिये आक्रामक हो सकते हो और उस समय आपको चीजें सरल रखनी होती है. आप अच्छी गेंद फेंककर दबाव डालने की कोशिश करते हो. मेरे दिमाग में यही सब चीजें चल रही थीं.’’