हरारे, 13 जून। महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी वाली युवा भारतीय टीम का लक्ष्य यहां सोमवार को जिम्बाब्वे के खिलाफ खेले जाने वाले दूसरे एकदिवसीय मैच को जीतकर तीन मैचों की सीरीज पर कब्जा जमाना होगा। युवा खिलाड़ियों से युक्त भारतीय टीम ने शनिवार को श्रृंखला के पहले मैच में मेजबान टीम को नौ विकेट से हराया था। Also Read - कपिल देव ने कहा, 175 रन की पारी ने भारतीय खिलाड़ियों में बड़ी टीमों को हराने का आत्मविश्वास जगाया था

Also Read - कोविड-19 की वजह से श्रीलंका और जिम्बाब्वे दौरे पर नहीं जाएगी टीम इंडिया : BCCI

दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में उन खिलाड़ियों को खेलने का अवसर मिल सकता है, जिन्हें पहले मुकाबले में खेलने का अवसर नहीं मिला था। Also Read - India defeat Zimbabwe by 10 wickets to reach Quarter Finals | अंडर-19 वर्ल्ड कप: भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से रौंदा, क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की

मध्यमक्रम के बल्लेबाज मनीष पांडे सहित अन्य खिलाड़ियों को अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है और साथ ही यह भी आशा भी कि इससे राष्ट्रीय चयनकर्ताओं की नजर उन पर पड़ेगी और उन्हें भारत के राष्ट्रीय दल में स्थायी रूप से शामिल किया जाएगा। यह भी पढ़े-डेब्यू वन डे मैच में शतकवीर बने लोकेश राहुल, भारत को दिलाई एकतरफा जीत

भारत ने इससे पहले 2015 में जिम्बाब्वे को 3-0 से मात दी थी और एक बार फिर इसे दोहराने की उम्मीद है।

टीमें (संभावित):

भारत:महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान, विकेटकीपर), लोकेश राहुल, फैज फजल, मनीष पांडे, करुण नायर, अंबाती रायडू, केदार जाधव, मंदीप सिंह, ऋषि धवन, जसप्रीत बुमराह, जयंत यादव, यजुवेंद्र चहल, बरिंदर सरन, जयदेव उनादकत, धवल कुलकर्णी और अक्षर पटेल।

जिम्बाब्वे: ग्रीम क्रेमर (कप्तान), रिचमोंड मुतुम्बामी, तौरइ मुजराबानी, चामुनओरवा चिबाबा, पीटर जोसेफ मूर, एल्टन चिगम्बुरा, वुसिमुजी सिबांडा, तवांडा मुपारिवा, सीन विलियमस, सिकंदर रजा बट, नेविले माडजिवा, डोनाल्ड टिरिपानो, टिमयसेन मारुमा, वेलिंगटन मासाकाड्जा, टेंडाई चिसोरो, हेम्लिटन मासाकाड्जा, टेंडाई चाटारा, क्रेग इरविन।