एकता बिष्ट (14/3) के नेतृत्व में अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने शनिवार को महिला टी-20 एशिया कप मुकाबले में पाकिस्तान को सात विकेट से हराकर लगातार सातवीं बार फाइनल में पहुंचने का गौरव हासिल किया. फाइनल में भारत का मुकाबला बांग्लादेश से होगा. बांग्लादेश ने अपने पिछले मुकाबले में मलेशिया और इससे पहले थाईलैंड को हराया था. Also Read - Coronavirus Updates: अफगानिस्तान, फिलीपींस, मलेशिया के यात्रियों के भारत आने पर रोक, कुआलालंपुर में 300 भारतीय फंसे

Also Read - ICC Women's T20 World Cup: भारत ने बांग्लादेश को 18 रन से हरा दर्ज की लगातार दूसरी जीत

पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी लेकिन मौजूदा चैम्पियन भारतीय गेंदबाजों ने अपने अनुशासित प्रदर्शन के दम पर उसे 20 ओवरों में सात विकेट पर 72 रनों पर सीमित कर दिया. जवाब में खेलते हुए छह बार के चैम्पियन भारत ने स्मृति मंधाना (38) और कप्तान हरमनप्रीत कौर (नाबाद 34) की उम्दा पारियों की बदौलत 16.1 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया. Also Read - ICC Womens T20 World Cup 2020: पहले गेंदबाजी करेगा बांग्लादेश; मंधाना हुई बाहर

टीम इंडिया की महिला क्रिकेटर ने तोड़ा बुमराह का रिकॉर्ड, पाक खिलाफ ‘विकेट उखाड़’ प्रदर्शन

मिताली राज (0) और दीप्ति शर्मा (0) खाता नहीं खोल सकीं जबकि मंधाना ने 40 गेंदों का सामना कर चार चौके लगाए. कप्तान ने 49 गेंदों पर तीन चौके लगाए. पाकिस्तान की ओर से अनाम अमीन को दो विकेट मिले जबकि नशारा संधू ने एक विकेट लिया. एकता को प्लेअर ऑफ द मैच चुना गया. एकता के अलावा शिखा पांडेय, अनुजा पाटिल, पूनम यादव और दीप्ति शर्मा ने एक-एक सफलता हासिल की.

अनुष्का को इस मामले में बॉस मानते हैं कोहली, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

पाकिस्तान की टीम के लिए दो बल्लेबाज ही दहाई तक पहुंच सकीं. नाहिदा खान ने 18 रन बनाए जबकि सना मीर ने 20 रनों की नाबाद पारी खेली. डियाना बेग छह रनों पर नाबाद लौंटीं. फाइनल में भारत का सामना बांग्लादेश के से होगा, जिसने शनिवार को ही एक अन्य मैच में मेजबान मलेशिया को 70 रनों के विशाल अंतर से मात देकर फाइनल का टिकट कटाया है. बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 130 रन बनाए थे. जबाव में मलेशिया की टीम पूरे ओवर खेलने के बाद नौ विकेट खोकर 60 रन ही बना सकी.