नई दिल्ली : भारत और बांग्लादेश के बीच दुबई में खेले गए एशिया कप 2018 के फाइनल मैच में भारत ने 3 विकेट से जीत हासिल की. रोमांचक मुकाबले को टीम इंडिया ने आखिरी गेंद पर बांग्लादेश को हराया. इसमें केदार जाधव ने सबसे अहम भूमिका निभाई. जाधव ने चोटिल होने के बावजूद बैटिंग की और टीम को जीत दिलायी. इससे पहले उन्हें बॉलिंग में कमाल दिखाते हुए 2 विकेट लिए. वहीं रविन्द्र जडेजा और भुवनेश्वर कुमार साझेदारी भी अहम रही. भुवी ने 21 रनों का अहम योगदान दिया. इस मुकाबले के लिए बांग्लादेश के लिटन दास को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. जब कि शिखर धवन को ‘मैन ऑफ द टूर्नामेंट’ चुना गया. Also Read - भारत-बांग्लादेश के पहले Day-Night टेस्ट मैच को मिले रिकॉर्ड दर्शक, आंकड़े जारी

टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी बांग्लादेश ने 48.3 ओवर में ऑल आउट होने तक 222 रन बनाए. इसके जवाब में टीम इंडिया की ओर से रोहित शर्मा और शिखर धवन ओपनिंग करने आए. इस दौरान दोनों खिलाड़ी अच्छा खेल रहे थे. लेकिन धवन एक गलत शॉट खेलकर आउट हो गए. उन्होंने 14 गेंदों में 3 चौकों की मदद से 15 रन बनाए. धवन के आउट होने के बाद अंबाती रायडू बैटिंग करने आए. लेकिन वो भी महज 2 रन बनाकर चलते बने. इसके बाद दिनेश कार्तिक ने मोर्चा संभाला. लेकिन इस बीच रोहित 55 गेंदों में 48 रन बनाकर आउट हुए. रोहित ने 3 छक्के और 3 चौके भी जड़े. लेकिन रोहित के आउट होने के बाद भारत के जीत की उम्मीद कम होने लगी. Also Read - Coronavirus: दुबई के हेल्थ वर्कर्स के साथ मोहम्मद बिन राशिद की बातचीत VIRAL,जानें क्या बोले UAE के शासक

एशिया कप फाइनल: लिटन की सेंचुरी या जाधव की फिरकी, किसकी भूमिका होगी निर्णायक? Also Read - Coronavirus ने मध्‍य प्रदेश में दी दस्‍तक, एक ही परिवार के 4 सदस्‍य संक्रमित

रोहित के आउट होने के बाद महेन्द्र सिंह धोनी बैटिंग करने आए. उन्होंने कार्तिक के साथ मिलकर अर्धशतकीय साझेदारी निभाई. इसके बाद कार्तिक 61 गेंदों में 37 रन बनाकर आउट हुए. कार्तिक के आउट होने के बाद धोनी 36 रन के निजी स्कोर पर आउट हुए. इस दौरान केदार जाधव अच्छी बैटिंग कर रहे थे. लेकिन वो चोटिल होने की वजह से रिटायर्ड हर्ट हुए. जाधव के आउट होने के बाद भुवनेश्वर कुमार बैटिंग करने आए. भुवी ने रविन्द्र जडेजा के मिलकर अच्छी साझेदारी निभाई.

जडेजा ने भुवनेश्वर कुमार के साथ अच्छी साझेदारी निभाने के बाद 23 रन के निजी स्कोर पर अपना विकेट गंवा दिया. जडेजा के आउट होने के बाद जाधव ने मैदान पर वापसी की. लेकिन इसके थोड़ी ही देर बाद भुवनेश्वर कुमार 21 रन बनाकर आउट हुए. उन्होंने 1 छक्का और 1 चौका भी जड़ा. भुवी के पवेलियन लौटने के बाद कुलदीप यादव बैटिंग करने आए. कुलदीप ने बहुत ही समझदारी से बैटिंग की. उन्होंने आखिरी ओवर में 4 रन बनाए. इस ओवर में भारत को जीत के लिए 6 रनों की जरूरत थी. इस तरह कुलदीप ने जाधव के साथ मिलकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई. जाधव 23 रन बनाकर नाबाद रहे. जब कि 5 रन बनाकर नाबाद रहे.

INDvsBAN: जडेजा ने ‘1.48 सेकेंड’ में लगाई ‘6 मीटर’ लम्बी छलांग, VIDEO में देखें धोनी की मदद से कैसे किया आउट

इससे पहले टॉस हार कर पहले बैटिंग करने उतरी बांग्लादेश की काफी अच्छी शुरुआत रही. ओपनर खिलाड़ी लिटन दास ने शतक जड़कर टीम का हौंसला बढ़ा दिया. लिटन और मेहदी हसन के बीच शतकीय साझेदारी हुई. टीम ने 20 ओवर तक एक भी विकेट नहीं गंवाया. यह पर भारतीय गेंदबाज दबाव में आ गए. लेकिन कप्तान रोहित शर्मा ने केदार जाधव को बॉलिंग अटैक में लगाकर इस साझेदारी को तोड़ दिया. जाधव ने मेहदी को 32 रन के स्कोर पर आउट किया. मेहदी के आउट होते ही टीम बिखर गई. इसके बाद इमरुल कायसे 2 रन, मुश्फिकुर रहीम 5 रन, मोहम्मद मिथुन 2 रन और महम्मदुल्लाह 4 रन बनाकर आउट हुए.

लिटन ने 117 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 121 रन बनाए. इसके बाद कुलदीप यादव की गेंद पर आउट हो गए. इसके बाद मशर्फे मुर्तजा 7 रन, नजमुल इस्लाम 7 रन और सौम्य सरकार 33 रन बनाकर आउट हुए. रुबले हुसैन बिना खाता खोले पवेलियन लौटे.

टीम इंडिया की इस मुकाबले में खराब शुरुआत रही. भारत को शुरुआती 20 ओवर में एक भी विकेट नहीं मिला, जिससे लगातार दबाव बढ़ रहा था. लेकिन केदार जाधव ने आते टीम को विकेट दिलाया. इसके बाद उन्होंने 9 ओवर में 41 रन देकर 2 विकेट झटके. वहीं स्पिन बॉलर कुलदीप यादव ने 10 ओवर में 45 रन देकर 3 विकेट हासिल किए. युजवेन्द्र चहल ने 8 ओवर में 31 रन देकर 1 विकेट लिया. इसके साथ ही 1 मेडन ओवर भी निकाला. फास्ट बॉलर जसप्रीत बुमराह को भी एक सफलता मिली. हालांकि भुवनेश्वर एक भी विकेट नहीं ले पाए.