थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में 8 से 15 मार्च तक आयोजित होने वाले आगामी एशिया कप विश्व रैंकिंग टूर्नामेंट से भारतीय तीरंदाजी संघ (एएआई) ने कोरोना वायरस के डर से हटने का फैसला किया है। पांच महीने के निलंबन से वापसी के बाद भारतीय तीरंदाजी टीम का यह पहला अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट होता। Also Read - देश में गंभीर हो रहा कोरोना, खेल गतिविधियों पर फिर लगा ब्रेक

कोरोना वायरस के समय क्रिकेट : ‘अगर ओलंपिक हो सकता है तो फिर IPL क्यों नहीं’ Also Read - SAI Recruitment 2021: SAI में बिना एग्जाम के पा सकते हैं नौकरी, आवेदन करने की कल है आखिरी डेट, 60 हजार मिलेगी सैलरी

एएआई के सहायक सचिव गुंजन अबरोल ने विश्व तीरंदाजी महासचिव टॉम डिलेन को लिखा, ‘कोरोना वायरस के कारण मौजूदा चिंताजनक स्थिति की समीक्षा तथा साई व आईओसी, एएआई द्वारा जारी यात्रा संबंधित सलाह के बाद हम अपनी टीम के स्वास्थ्य के बारे में चिंतित हैं और इन मौजूदा परिस्थितियों में कोई जोखिम नहीं ले सकते।’ Also Read - Fuel demand: Pre COVID के स्तर पर पहुंची ईंधन की मांग, पटरी पर लौटने लगी अर्थव्यवस्था

उन्होंने लिखा, ‘इसलिए टीम को सात से 15 मार्च तक बैंकॉक में होने वाले एशिया कप पहले चरण के विश्व रैंकिंग तीरंदाजी टूर्नामेंट से टीम को हटाने का फैसला किया जाता है। टीम की सात मार्च को रवानगी के सारे इंतजाम कर दिए गए थे लेकिन दुर्भाग्य से हमें अपनी इच्छा के विरूद्ध यह मुश्किल फैसले करने को बाध्य होना पड़ा।’

कोरोना वायरस: खेल मंत्री कीरेन रीजीजू की खिलाड़ियों को सलाह, लोगों से हाथ मत मिलाओ

विश्व तीरंदाजी अधिकारी ने पीटीआई से कहा कि टूर्नामेंट का आयोजन होगा, हालांकि थाईलैंड में कोरोना वायरस के कारण एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है और जनवरी से अब तक वहां 45 से ज्यादा पॉजीटिव मामले सामने आए हैं। इस वायरस से पूरी दुनिया में अब तक 3000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है और 90,000 से ज्यादा लोग इसकी चपेट में हैं।