नई दिल्ली : टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच टी-20, टेस्ट और वनडे सीरीज खेली जायेगी. इसके लिए भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया रवाना हो चुकी है. 21 नवंबर से शुरू होने वाली टी-20 सीरीज के लिए खिलाड़ी अभ्यास में जुट गए हैं. इसके बाद टेस्ट सीरीज खेली जायेगी, जो कि काफी अहम होगी. विश्व क्रिकेट के कई पूर्व दिग्गज खिलाड़ियों की नजर भारतीय गेंदबाजों पर हैं. इस सिलसिले में पूर्व आस्ट्रेलियाई विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय गेंदबाजों के प्रदर्शन पर सभी निगाहें टिकी रहेंगी. Also Read - Covid-19 Lockdown: 'पांड्या ब्रदर्स' ने घर को बनाया स्टेडियम! कर रहे हैं जमकर प्रैक्टिस, देखें VIDEO

भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण को अब तक का सर्वश्रेष्ठ माना जा रहा है और गिलक्रिस्ट को लगता है कि उन्होंने अपनी जबर्दस्त क्षमता दिखायी है. गिलक्रिस्ट ने कहा, ‘‘यह कहना मुश्किल है कि वे कैसा प्रदर्शन करेंगे. यह श्रृंखला का दिलचस्प हिस्सा बनने जा रहा है. क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों ने साबित किया है कि ऑस्ट्रेलियाई परिस्थितियों में उनका कोई जवाब नहीं है.’’ Also Read - डोनेशन की राशि को लेकर सवाल पूछे जाने पर भड़का पूर्व भारतीय क्रिकेटर, दे डाली ये नसीहत

ड्वेन ब्रावो ने याद का 2014 का भारत दौरा, कहा – जब बोर्ड ने नहीं दिए पैसे तब BCCI बना मददगार Also Read - COVID-19: अक्षय कुमार के 25 करोड़ रुपये दान दिए जाने पर हार्दिक पांड्या ने किया ये कमेेंट

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मैं तेज गेंदबाजी इकाई को लेकर भारतीय नजरिये से वास्तव में उत्साहित हूं और उन्होंने इंग्लैंड में झलक दिखायी थी कि वे अच्छी बल्लेबाजी लाइन अप को भी तहस नहस कर सकते हैं. वे फिट हैं, दमदार है, वे आक्रामक युवा हैं और ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में चुनौती देने की स्थिति में हैं.’’

इंडिया ए ने न्यूजीलैंड ए के खिलाफ 467 रन बनाकर पारी की घोषित, पार्थिव पटेल शतक से चूके

बता दें कि टीम इंडिया ने टी-20 सीरीज के लिए टीम घोषित कर दी है. इसमें अनुभवी खिलाड़ियों के साथ युवा खिलाड़ियों को भी मौका दिया गया है. टीम ने बतौर तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार और खलील अहमद को शामिल किया है. खलील युवा खिलाड़ी हैं. लेकिन प्रतिभाशाली भी हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगर खलील को प्लेइंग इलेवन में जगह मिलती है तो यह उनके लिए काफी अच्छा मौका होगा.