भारतीय गोल्फर अदिति अशोक (Aditi Ashok) ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में गोल्फ के तीसरे दौर में तीन अंडर 67 का कार्ड बनाकर दूसरे स्थान पर कब्जा किया और गोल्फ में देश के पहले ओलंपिक पदक के लिए मजबूत दावेदारी में बनाए रखी।Also Read - नीरज चोपड़ा, सुमित अंतिल की सफलता के बाद क्रिकेट जितना लोकप्रिय होगा भालाफेंक: अनुराग ठाकुर

अदिति तीन दौर के बाद 12 अंडर 201 के स्कोर के साथ अकेली दूसरे स्थान पर है। अमेरिका की नैली कोरडा उनसे तीन स्ट्रोक्स आगे है जिन्होंने इस दौर में दो अंडर 69 स्कोर किया। Also Read - उत्कृष्टता हासिल करने के लिए विराट कोहली को फॉलो करना चाहते हैं पीआर श्रीजेश

न्यूजीलैंड की लीडिया को, ऑस्ट्रेलिया की हन्ना ग्रीन, डेनमार्क की क्रिस्टीन पेडरसन और जापान की मोने इनामी 10 अंडर 203 के स्कोर के साथ तीसरे स्थान पर हैं। Also Read - टोक्यो ओलम्पिक में पदक से चूके 24 खिलाड़ियों को गिफ्ट में मिली कार, टाटा मोटर्स ने किया सम्मानित

अदिति ने पांच बर्डी लगाए और दो बोगी किए। उन्होंने नौवें और 11वें होल पर बोगी करने के बाद 15वें और 17वें होल पर बर्डी लगाए। इससे पहले उन्होंने चौथे, छठे और सातवें होल पर भी बर्डी लगाये थे।

भारत की दीक्षा डागर एक ओवर 72 के स्कोर के साथ निचले हाफ में है। अदिति का ये दूसरा ओलंपिक है। रियो (2016) में वो 41वें स्थान पर थी।