नई दिल्ली : भारतीय पुरूष हॉकी टीम के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने कहा कि उनकी टीम जकार्ता एशियाई खेलों के निराशाजनक प्रदर्शन से उबर गयी है और अब एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिये बेताब है. Also Read - आज के दिन, 13 साल पहले धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने जीता था पहला टी20 विश्व कप

Also Read - धोनी के संन्‍यास के बाद उनके सबसे बड़े पाकिस्‍तानी फैन बशीर चाचा ने उठाया बड़ा कदम, अब कभी…

मौजूदा चैंपियन भारत ने बृहस्पतिवार को मेजबान ओमान को 11-0 से हराकर अपने अभियान की शानदार शुरुआत की. वह शनिवार को पाकिस्तान से भिड़ेगा. हरेंद्र ने कहा, ‘‘टूर्नामेंट के प्रतिस्पर्धी हिस्से की शुरुआत शनिवार को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच से होगी. ’’ Also Read - बॉल-आउट के बारे में जानते ही नहीं थे पाकिस्तानी कप्तान शोएब मलिक: इरफान पठान

ISL 2018: दिल्ली और केरला के बीच होगा मुकाबला, जानें किसका पलड़ा है भारी

उन्होंने कहा, ‘‘एशियाई खेलों में सेमीफाइनल की हार के बाद कुछ दिनों तक मूड सहीं नहीं था. एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक नहीं जीत पाने की निराशा अब भी खिलाड़ियों के दिमाग में है लेकिन हम पिछली बातों को दिमाग में नहीं रख सकते हैं. ’’ भारत हालांकि पाकिस्तान को हराकर कांस्य पदक जीतने में सफल रहा था.

खलील अहमद ने वर्ल्डकप 2019 के लिए बनाया प्लान, टीम में सलेक्शन के लिए यहां करेंगे अच्छा प्रदर्शन

हरेंद्र ने कहा, ‘‘हमारा ध्यान अब इस टूर्नामेंट पर है और टीम अच्छी तरह से तैयार है. ओमान के खिलाफ पहले मैच में हमारे नौ खिलाड़ियों ने गोल किये. यहां एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी में जीत विश्व कप के लिये रास्ता तय करेगी जो कि एक महीने बाद होना है. विश्व कप से पहले हमें प्रतिस्पर्धी मैचों की जरूरत थी और हमें यहां ऐसे मैचों में खेलने का मौका मिल रहा है.’’